​​डॉ एपीजे अब्दुल कलाम: सक्सेस स्टोरी, हिस्ट्री, बायोग्राफी

5.0

18 अप्रैल,2022

5

144

icon
एपीजे अब्दुल कलाम की कहानी जानें और देश के मिसाइल मैन से प्रेरित होने का अहसास करें।

संक्षिप्त सिंहावलोकन 

ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था। भारतीय वैज्ञानिक, अब्दुल कलाम ने देश के मिसाइल और परमाणु हथियार कार्यक्रमों को डेवलप करने में प्रमुख भूमिका निभाई। वह देश के ग्यारहवें राष्ट्रपति भी बने और उनका कार्यकाल 2002 से 2007 तक का था।

शिक्षा और शुरुआती करियर

अब्दुल कलाम ने 1957 में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। इस डिग्री को हासिल करने के बाद वह 1958 में डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाईजेशन (डीआरडीओ) में शामिल हो गए। ग्यारह साल बाद कलाम ने बेहतर संस्थान का रुख किया और इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन (इसरो) में शामिल हो गए। वह एसएलवी-III के प्रोजेक्ट डायरेक्टर रहे। यह ध्यान देने लायक बात थी क्योंकि एसएलवी-III पहला सैटेलाइट लॉन्च वेहिकल था जिसे भारत में डिजाइन किया गया था और बनाया गया था। हालांकि 1982 में कलाम ने एक बार फिर डीआरडीओ में काम करने का फैसला किया। यहां, उन्होंने उस कार्यक्रम के लिए आधार तैयार किया जिसके तहत कई तरह के सफल मिसाइल तैयार किये गए। इस सफलता के कारण उन्हें भारत का "मिसाइल मैन" कहा जाने लगा।

इन सफल मिसाइलों में से एक को अग्नि कहा गया जो देश की पहली मध्यम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल थी। 1989 में लॉन्च की गई, अग्नि को एसएलवी-III के कुछ पहलुओं को ध्यान में रखकर बनाया गया था।

कलाम की राजनीतिक भूमिकाएँ

अब्दुल कलाम ने 1992 और 1997 के बीच देश के रक्षा मंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार की भूमिका निभाई। दो साल बाद, कलाम सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार के रूप में नियुक्त हुए और 1999 से 2001 तक कैबिनेट मंत्री का पद संभाला। कलाम ने 1998 में भारत द्वारा किए गए परमाणु परीक्षणों में प्रमुख भूमिका निभाई थी जिसने भारत की परमाणु शक्ति मज़बूत की, इसलिए उन्हें एक राष्ट्रीय नायक माना जाने लगा।

उसी साल, कलाम ने देश के लिए अपना विज़न तय किया, जिसका शीर्षक था टेक्नोलॉजी विज़न 2020। इस योजना को एक रोड मैप के रूप में लिया गया, जिसका उद्देश्य था अगले दो दशक में देश को अल्प विकसित से विकसित देश में बदलना। इस योजना में जिन उपायों पर भरोसा किया गया उनमें अधिक कृषि उत्पादकता, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा की पहुंच बढ़ाना और आर्थिक विकास में योगदान करने के लिए टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल पर ज़ोर दिया गया था।

साल 2002 तक, हिंदू राष्ट्रवादी नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस (या एनडीए) ने कलाम को निवर्तमान राष्ट्रपति कोचेरिल रमण नारायणम के उत्तराधिकारी की जगह दी। कलाम एक मुसलमान थे, इसलिए यह दिलचस्प बात है। इसके अलावा, कलाम का नाम का प्रस्ताव इंडियन नेशनल कांग्रेस ने भी किया था, जो एनडीए की विरोधी पार्टी था। वह बेहद लोकप्रिय थे इसलिए भारी बहुमत से चुनाव जीते। जून 2002 में वह देश के ग्यारहवें राष्ट्रपति बन गए। उनका कार्यकाल 2007 में समाप्त हुआ और उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

नागरिक जीवन में वापसी

कलाम बतौर नागरिक देश को विज्ञान और प्रौद्योगिकी की ओर इस तरह ले जाने के लिए समर्पित रहे कि यह और अधिक विकसित हो सके। उन्होंने कई विश्वविद्यालयों में कई व्याख्यान दिए और अनगिनत छात्रों को प्रेरित किया। वह 27 जुलाई 2015 को शिलांग के भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईटी) में लेक्चर देने के दौरान गिर पड़े। कार्डियक अरेस्ट के कारण उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। उनकी मृत्यु पर राष्ट्र ने शोक व्यक्त किया। उन्होंने एक पूर्ण जीवन जिया और कई लोगों को प्रेरित किया। उनके वैज्ञानिक योगदान के साथ-साथ भारत को एक देश के रूप में आगे बढ़ाने के उनके प्रयास को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा।

निष्कर्ष

कलाम ने "विंग्स ऑफ़ फायर" के नाम से आत्मकथा लिखी, जो 1999 में प्रकाशित हुई थी और साथ ही "इंडिया 2020" की अगली कड़ी थी जिसका शीर्षक था "इग्नाइटेड माइंड्स"। इनके अलावा उन्होंने कई किताबें लिखीं। इन किताबों को हर किसी को वैज्ञानिक सोच की अपील को देखने और एक राष्ट्र के रूप में आगे बढ़ने के लिए इसका उपयोग करने के लिए एकजुट करने के लिए डिज़ाइन किया गया था। एपीजे अब्दुल कलाम का योगदान इतना अधिक था कि उन्हें देश के सर्वोच्च पुरस्कारों से सम्मानित किया गया जिनमें पद्म विभूषण (1990 ) और भारत रत्न (1997) शामिल हैं।

 

डिस्क्लेमर: इस ब्लॉग का उद्देश्य है सिर्फ जानकारी देना न कि कोई सलाह/इन्वेस्टमेंट के बारे में सुझाव देना या किसी स्टॉक की खरीद-बिक्री की सिफारिश करना।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

संबंधित ब्लॉग

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

नवीनतम ब्लॉग

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account