जेफ बेजॉस की सक्सेस स्टोरी: एमेज़ॉन समूह के संस्थापक और पूर्व सीईओ

03 सितम्बर,2021

9

639

icon
जानें कि कैसे जेफ बेजॉस ने सिरे से एक मल्टीनेशनल कंपनी बनाई और सबसे सफल एंट्रेप्रेन्योर में से एक बन गए।

एमेज़ॉन अमेरिका की सबसे बड़ी मल्टीनेशनल टेक्नोलॉजी कंपनियों में से एक है।  यह पूरी तरह से इन्वेंशन, एक्सपेरिमेंट, इनोवेशन, कस्टमर सैटिस्फैक्शन और क्रिएटिविटी की कहानी है।  जेफ बेजॉस एमेज़ॉन के पूर्व सीईओ और संस्थापक हैं। लगभग 200 बिलियन डॉलर के नेटवर्थ के साथ वह दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। जेफ बेजॉस की सक्सेस स्टोरी सिर्फ एमेज़ॉन तक ही सीमित नहीं है। इसके अलावा, वह ब्लू ओरिजिन (रॉकेट कंपनी) और वाशिंगटन पोस्ट अखबार के भी मालिक हैं। जेफ बेजॉस की सक्सेस स्टोरी की राह मुश्किलों और कड़ी मेहनत से गुज़रती है।

जेफ बेजॉस  का सुरुआती जीवन:

जेफ बेजॉस का जन्म मेक्सिको में हुआ था। उनकी मां का नाम है जैकलिन और उनके पिता का नाम था टेड जोर्गेन्सन, उनकी शादी 1965 में हुई थी। जैकलिन ने 1968 में मिगुएल बेजॉस नाम के व्यक्ति से दूसरी शादी की।  जेफ बेजॉस को ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद बहुत सी कंपनियों (जैसे, बेल लैब्स और इंटेल) से कई ऑफर मिले। हालांकि उन्होंने वे सारे ऑफर खारिज कर दिया। 30 साल की उम्र तक ही उनकी सैलरी लाख के आंकड़े को पार कर चुकी थी। लेकिन उनके करियर के सफ़र नौकरियां छोड़ने-पकड़ने का सफ़र जारी रहा। ऐसे में कोई यही कहेगा कि ऐसे जीनियस को बाँध कर रखना मुश्किल था। एक दिन जब वह नेट पर सर्फिंग कर रहे थे, उन्होंने पाया कि वेब की दुनिया 2300% की दर से बढ़ रही है और तभी उन्होंने एक कंपनी स्थापित करने का फैसला कर लिया।

एमेज़ॉन की सक्सेस स्टोरी :

जेफ बेजॉस कंपनी स्थापित करने के अपने सपने को पूरा करने के लिए दृढ़ थे।  आखिरकार, एक योग्य संगठन बनाने की कोशिश के ज़रिये एमेज़ॉन की स्थापना हुई। एमेज़ॉन की सक्सेस स्टोरी बेहद दिलचस्प है। यह कंपनी एकदम एकनिष्ठता और दृढ़ चरित्र की बुनियाद पर तैयार हुई है, और यह हमेशा एमेज़ॉन से जुड़े सभी लोगों के लिए बेहतरी कस्टमर एक्सपीरियंस लेकर आएगी। इसके अलावा, सफलता हासिल करने के लिए उन्होंने जो मेहनत की उसका नतीज़ा हम आज देख रहे हैं।

जेफ बेजॉस की सक्सेस स्टोरी :

जेफ बेजॉस  ने आगे बढ़कर वेब रिटेलिंग का एक सिस्टम तैयार करने के लिए बहुत कोशिश की। जब दुनिया इंटरनेट से हैरान ही थी या लोगों को पता भी नहीं था कि यह काम कैसे करता है, तब वह वेब सिस्टम वाली रिटेलिंग कर रहे थे। इस मल्टीनेशनल कंपनी की सफलता के प्रमुख बिंदुओं में से एक यह है कि इसने अपने प्रतिस्पर्धियों को हराने की नहीं सोची। बल्कि यह सारे ग्राहकों के लिए असल वैल्यू तैयार बनाने के साथ-साथ उनकी मदद करने की कोशिश कर रही है। एमेज़ॉन जिन पॉलिसीज़ पर अमल करती है वह कंपनी को इनके इम्प्लीमेंटेशन पर केन्द्रित रखती है।

जेफ बेजॉस का विज़न क्या था?

एमेज़ॉन की शुरुआत से ही, बेजॉस जानते थे कि वह एक बिल्डर कल्चर तैयार करना चाहते हैं। इन बिल्डर में ऐसे लोग होते हैं जो एक्स्प्लोरर और क्यूरियस होते हैं। ऐसे लोग जो हमेशा दुनिया के सामने कुछ नया लाने के लिए उत्सुक रहते हैं। सोच यह थी कि बिल्डर की मानसिकता कंपनी की मदद करती है और वो इस तरह:

  • कुछ बड़ा करने के लिए और इसके अलावा मुश्किल हासिल होने वाले अवसर की ओर बढ़ने में।
  • साथ ही यह दृढ़ विश्वास कि लॉन्च, इन्वेंट, स्टार्ट ओवर, रिलक्टेंट, रीइन्वेंट, रिपीट, रिन्ज़ और कड़ी मेहनत जैसी निरंतर कोशिश के ज़रिये जीत हासिल की जा सकती है। 
  • ग्राहक की मांग के बारे में जानना मुश्किल है। इसलिए बिल्डर्स का सबसे महत्वपूर्ण काम है अप्रोचेबल फैसिलिटी तैयार करना।

जेफ बेजॉस की सक्सेस स्टोरी की राह में नाकामियां कैसी रही हैं?

जेफ बेजॉस  की सक्सेस स्टोरी में कुछ खामियां और नाकामियां हैं। जैसा कि अक्सर कहा जाता है कि यदि कोई नाकामी/गलती नज़र न आये तो आप जो कर रहे हैं वह शायद बहुत महत्वपूर्ण नहीं है। बेजॉस ने कई वेंचर शुरू किए और इनके साथ एक्सपेरिमेंट किए जो नाकाम रहे। लेकिन ऐसे ही होता है कल्चर का विकास है। ऐसी नाकामियों की कुछ मिसाल हैं:

  1. फायर फोन - फायर फोन बेजॉस के एक्सपेरिमेंट में से एक है। फायर फोन के एक्सपेरिमेंट में 17 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। यह नुकसान कंपनी के लिए बहुत बड़ा झटका था। कंपनी की लाख कोशिश के बावजूद, यह आईफोन और एंड्रॉयड के साथ मुकाबले के काबिल नहीं था।
  2. एमेज़ॉन लोकल - यह पहल फ्रीक्वेंट डील प्रदान करने के लिए थी लेकिन इसका नतीज़ा अच्छा नहीं रहा।
  3. अन्य नाकामियां - एमेज़ॉन वॉलेट, म्यूजिक इम्पोर्टर, एमेज़ॉन किंडल, एमेज़ॉन लोकल, एमेज़ॉन वेबपे, आस्कविल,आदि जेफ बेजॉस के कुछ नाकाम एक्सपेरिमेंट हैं।

इनोवेशन क्रक्स है:

जैसा कि ऊपर बताया गया, एमेज़ॉन कंपनी ने अपने प्रतिस्पर्धियों को हराने पर कभी ध्यान नहीं दिया। जेफ की लीडरशिप में, कंपनी अपना ध्यान इन्वेंशन पर केंद्रित रखा और वह 13 लाख से अधिक समर्पित और प्रतिभाशाली कर्मचारियों को रोजगार देने में कामयाब रही। एमेज़ॉन की सक्सेस स्टोरी में इन्वेंशन से जुड़ी कुछ कामयाबी भी शामिल हैं जिन्होंने कुछ नाकाम एक्सपेरिमेंट से हुए नुकसान की भरपाई की। बेजॉस  के मुताबिक नाकामी भी वह अनुभव है जो आपको कामयाबी की ओर ले जाएगा। एमेज़ॉन हमेशा कुछ नया इन्वेंट करने और अपने ग्राहकों को अप्रोचेबल फैसिलिटी प्रदान करने की कोशिश करता है।

सीईओ के पद से हटने का अहम फैसला:

फरवरी 2021 की शुरुआत में, बेजॉस ने घोषणा की कि वह बहुत जल्द एमेज़ॉन कंपनी के सीईओ के पद से हटने जा रहे हैं। इसका उद्देश्य था कई अन्य परियोजनाओं पर ध्यान देना। और 6 जुलाई तक, एमेज़ॉन की वेब सेवा के पूर्व प्रमुख, एंडी जेसी, एमेज़ॉन के नए सीईओ बन गए। बेजॉस के करियर का सफ़र यह दिखाता है कि आईडिया हमेशा आईडिया ही रह जाएगा यदि आप इसे आजमाते नहीं। यह या तो नाकाम होगा या कामयाब। लेकिन अगर यह कामयाब हुआ तो आप कामयाबी की मंजिल पर होंगे। जेफ बेजॉस  की सक्सेस स्टोरी  में कामयाबी के साथ-साथ अडचनें  भी हैं जिनसे कंपनी को गुजरना पड़ा।

निष्कर्ष

जेफ बेजॉस ने सिएटल में एक गैरेज में इस विशाल ई-कॉमर्स कंपनी एमेज़ॉन की स्थापना की। अपनी कंपनी स्थापित करने के लिए जेफ बेजॉस  अपने कंफर्ट जोन से बाहर निकले। उन्हें अपने जीवन में कई बार नाकामी हाथ लगी, लेकिन उनसे कभी निराश नहीं हुए। उन्होंने अपने नाकाम प्रोजेक्ट को गलतियों से सीखने के मौके के रूप में लिया। जेफ बेजॉस बेहद मोटिवेशनल व्यक्ति भी रहे हैं। इस मल्टीनेशनल कंपनी की कड़ी मेहनत का ही नतीजा है कि इस महामारी के दौर में भी कड़ी मेहनत फायदेमंद साबित हुई है।  इसने पिछले 2020 से अब तक अच्छा मुनाफा भी कमाया है क्योंकि लोग अपने घर में क्वारंटीन में थे और उनके लिए ऑनलाइन डिलीवरी ही एकमात्र ऑप्शन था।

आम तौर पर पूछे जाने वाले सवाल:

1. एमेज़ॉन के स्टॉक की ट्रेडिंग कहाँ होती है? 

एमेज़ॉन के स्टॉक की ट्रेडिंग नैज़डैक में एएमज़ेडएन के टिकर के तहत होती है।

2. क्या एमेज़ॉन डायरेक्ट स्टॉक खरीद का ऑफर करता है?

हाँ, एमेज़ॉन ने अगस्त 2019 से डीएसपीपी (डायरेक्ट स्टॉक परचेज प्लान) ऑफर करना शुरू किया।

3. मैं एमेज़ॉन स्टॉक में कैसे इन्वेस्ट कर सकता हूँ?

एमेज़ॉन के स्टॉक में इन्वेस्ट करने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करना होगा:

  1. आपको ऑनलाइन अपनी ब्रोकरेज कंपनी के साथ एक नया अकाउंट खोलना होगा।
  2. अपना बैंक अकाउंट को कनेक्ट कर इसमें पैसे डालने होंगे।
  3. स्टॉक का पता लगाने के लिए टिकर सिंबल, यानी एएमज़ेडएन या कंपनी का नाम डालें।
  4. अपना बाय ऑर्डर देने के बाद आप एमेज़ॉन के शेयरहोल्डर होंगे।

4. एमेज़ॉन का मार्केट कैपिटल फिलहाल कितना है? 

फिलहाल एमेज़ॉन का मार्केट कैपिटल करीब 1.86 ट्रिलियन डॉलर है।

5. एमेज़ॉन के स्टॉक के कैलकुलेशन का फॉर्मूला क्या है? 

स्टॉक प्राइस को कैलकुलेट करने का फॉर्मूला:

मौजूदा स्टॉक प्राइस = मार्केट कैपिटलाइज़ेशन/आउटस्टैंडिंग स्टॉक्स

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

संबंधित ब्लॉग

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

नवीनतम ब्लॉग

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account