2022 और उससे आगे क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य

5.0

17 फरवरी,2022

8

546

icon
क्रिप्टोकरेंसी एक तरह का डिजिटल एसेट है और यह ऐसे नेटवर्क पर बनाया जाता है जो बड़ी संख्या में कंप्यूटरों तक फैला होता है। वे अपनी विकेंद्रीकृत प्रकृति के कारण सरकारों और केंद्रीय अधिकारियों के नियंत्रण से बाहर रह सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य

बिटकॉइन अब तक के सबसे ऊँचे स्तर पर है, साथ ही बड़ी कंपनियां अधिक संस्थागत तौर पर खरीद-फरोख्त कर रही हैं। इथेरियम, दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी, हाल ही में एक नए उच्चतम स्तर पर भी पहुंच गई है। नए बिटकॉइन प्रतिबंधों ने अमेरिकी सरकार के अधिकारियों और बिडेन प्रशासन की दिलचस्पी बढ़ा दी है। इस बीच, क्रिप्टोकरेंसी में रुचि काफी बढ़ गई है। ट्विटर पर मिडिल स्कूल के टीनेजर से लेकर लॉन्ग-टाइम इन्वेस्टर और ट्विटर तक, यह न केवल ट्रेडर्स के बीच बल्कि पॉप मीडिया में भी एक प्रमुख विषय है।

विशेषज्ञों के अनुसार, 2021 कई लिहाज़ से नई संभावना वाला रहा। क्रिप्टो बिज़नेस में लोगों की रुची बढ़ रही है और ध्यान भी। हालाँकि, यह क्षेत्र अभी भी अपने शुरूआती दौर में है और इसमें लगातार बदलाव आ रहा है। यही कारण है कि हर नए बिटकॉइन के बाद तेज़ गिरावट आती है। यह भविष्यवाणी करना मुश्किल है कि आने वाले समय में यह कहाँ तक जाएगा, लेकिन विश्लेषक इंडस्ट्री की बेहतर समझ के लिए आने वाले महीनों में कानून और क्रिप्टोकरेंसी भुगतानों को संस्थागत रूप से अपनाने जैसी समस्याओं पर कड़ी नजर रखेंगे।

क्रिप्टोकरेंसी का रेगुलेशन

भविष्य में बिटकॉइन कानून के बारे में और भी बहुत कुछ सुनने को मिलेगा। दुनिया भर के लॉमेकर्स यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि नियम और दिशानिर्देश को लागू कर इन्वेस्टर्सों के लिए क्रिप्टोकरेंसी को कैसे सुरक्षित और हैकर्स के लिए कम आकर्षक बनाया जाए। विश्व स्तर पर क्रिप्टो बिज़नेस में सबसे बड़ी समस्या है रेगुलेशन। असंदिग्ध रेगुलेशन की सराहना ही होगी।

चीन ने सितंबर में देश में क्रिप्टोकरेंसी के हर तरह के लेनदेन को अवैध घोषित कर दिया, जिससे देश के भीतर क्रिप्टो-संबंधित गतिविधियों को रोक लग गई। यदि सख्त रेगुलेशन लागू नहीं किये गए तो इन्वेस्टर्स को नुकसान होना तय है। इसके अलावा, सरकारों के लिए यह अच्छा है कि इन्वेस्टर यह समझें कि टक्स रिटर्न में वर्चुअल करेंसी को कैसे रिपोर्ट कैसे करें।

बिटकॉइन से जुड़ी दूसरी चीजों की तरह इसका रेगुलेशन भी मुश्किल भरा है। स्पष्ट कानून बिटकॉइन से जुड़ी एक बड़ी बाधा को दूर करेगा, क्योंकि अमेरिका में कंपनियां और इन्वेस्टर अब बगैर स्पष्ट प्रतिबंध के कर रहे हैं।

नए रेगुलेशन का इन्वेस्टर्सों पर क्या असर हो सकता है?

क्रिप्टो टैक्स रिपोर्टिंग उपायों को राष्ट्रपति के $ 1.2 ट्रिलियन बायपार्टीज़न इंफ्रास्ट्रक्चर पैकेज में शामिल किया गया था, जिससे सरकार के लिए अपने नागरिकों के बीच क्रिप्टो गतिविधि का पता लगाना आसान हो सकता है। इसलिए, विशेषज्ञों की राय है कि नए रेगुलेशन से पहले, इन्वेस्टर अपने क्रिप्टो एसेट पर होने वाले किसी भी पूंजीगत लाभ या हानि का ट्रैक रखें। नए रेगुलेशन से इन्वेस्टर्सों के लिए क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन को सही तरीके से पेश करना आसान बना सकते हैं।

क्रिप्टो ईटीएफ को स्वीकृति

इस मोर्चे पर, पहला बिटकॉइन ईटीएफ अक्टूबर में न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में शुरू हुआ, जो महत्वपूर्ण कदम है। यह पहल क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्टमेंट करने के लिए एक नए, अधिक पारंपरिक दृष्टिकोण पेश करती है। हालांकि, कुछ लोगों का तर्क है कि बिटो (BITO) ईटीएफ काफी नहीं है, क्योंकि यह बिटकॉइन से जुड़ा है, इसके पास क्रिप्टोकरेंसी नहीं है। इसके बजाय, फंड बिटकॉइन के फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट में इन्वेस्ट करता है। विशेषज्ञों का सुझाव है कि बिटकॉइन फ्यूचर्स सीधे बिटकॉइन की कीमत ज़ाहिर नहीं करते, बावजूद इसके कि वे असल क्रिप्टोकरेंसी के ही पैटर्न का पालन करते हैं। इन्वेस्टर्स को फिलहाल सीधे बिटकॉइन रखने वाले ईटीएफ का इंतज़ार करना चाहिए।

इन्वेस्टर्सों के लिए क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड का क्या मतलब है

यह अभी तय नहीं किया जा सकता कि कितने लोग बिटो (BITO) में भाग लेंगे, लेकिन फंड ने पहले कुछ हफ्तों में पहले ही काफी रुचि दिखी है। वैसे, बिटकॉइन एसेट को एकीकृत करने वाले पारंपरिक फिनांशियल प्रोडक्ट जितने अधिक आयेंगे, क्रिप्टो बाजार में शामिल होने और प्रभावित करने वाले व्यक्तियों की संख्या उतनी अधिक होगी। क्रिप्टोकरेंसी बाजार को पार करना सीखने के बजाय, आप उसी ब्रोकरेज से सीधे अपने पोर्टफोलियो में क्रिप्टो जोड़ सकते हैं, जिसके साथ आपके पास पहले से ही सेवानिवृत्ति या अन्य पारंपरिक इन्वेस्टमेंट खाता है।

दूसरी ओर, बिटो (BITO) जैसे क्रिप्टो ईटीएफ में इन्वेस्टमेंट करने में किसी भी अन्य क्रिप्टो इन्वेस्टमेंट के जितना ही जोखिम है। यह अभी भी एक जोखिम भरा और सट्टे जैसा इन्वेस्टमेंट है। यदि आप क्रिप्टो में डाले गए पैसे को एक्सचेंज पर खरीदकर खोना नहीं चाहते तो आपको अपना पैसा क्रिप्टो फंड में नहीं रखना चाहिए। सोच लें कि क्या आप अपने पोर्टफोलियो में क्रिप्टोकरेंसी को शामिल करने का जोखिम उठाने को तैयार हैं।

संस्थागत क्रिप्टोकरेंसी अपनाने का विस्तार

2021 में, विभिन्न इंडस्ट्री की मुख्यधारा की कंपनियों ने क्रिप्टोकरेंसी और ब्लॉकचेन में रुचि दिखाई, और कुछ ने इसमें इन्वेस्टमेंट भी किया। उदाहरण के लिए, एएमसी ने अभी-अभी घोषणा की है कि साल ख़त्म होने से पहले, बिटकॉइन पेमेंट लेना शुरू कर देगा। पेपाल और स्क्वायर, उपभोक्ताओं को अपने प्लेटफॉर्म पर यह खरीदने की अनुमति देकर क्रिप्टोकरेंसी में भरोसा जता रहे हैं। टेस्ला अभी भी यह तय नहीं कर पाई है कि वह बिटकॉइन भुगतान की अनुमति देगी या नहीं, क्योंकि कंपनी के पास डिजिटल मुद्रा में अरबों डॉलर हैं। विश्लेषकों के अनुसार, इस तरह की खरीद-फरोख्त लगातार होने की उम्मीद है।

इन्वेस्टर्स के लिए इसका मतलब यह है कि संस्थागत रूप से ज़्यादा अपनाया जाएगा। जबकि अधिकांश लोग अभी क्रिप्टोकरेंसी वाले प्रोडक्ट की वैल्यू नहीं देख पा रहे हैं, लेकिन जब और मर्चेंट्स के पेमेंट लेने लगेंगे तो हालात बदल सकते हैं। गुड्स या सर्विसेज़ के लिए बिटकॉइन खरीदना लॉन्ग-टर्म के लिए निश्चित रूप से खराब वित्तीय विकल्प होगा, लेकिन संस्थागत रूप से इसके अपनाए जाने से आम लोगों के लिए नए उपयोग के रास्ते खुल सकते हैं, जिससे क्रिप्टो वैल्यू में बदलाव हो सकता है। कुछ भी निश्चित नहीं है, लेकिन यदि आप लॉन्ग-टर्म स्टोर के तौर पर क्रिप्टोकरेंसी खरीदते हैं, तो उसका जितने अधिक "रियल-वर्ल्ड" एप्लीकेशन होगा, डिमांड और वैल्यू उतनी बढ़ेगी।

अगले पाँच साल में क्रिप्टो का भविष्य

बिटकॉइन मार्केट वैल्यू के हिसाब से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी है, और बाकी बाजार इसके पैटर्न का पालन करते हैं, यह सामान्य रूप से क्रिप्टो बाजार का एक अच्छी भविष्यवक्ता है। बिटकॉइन की कीमत की शुरुआत, 2021 में, भारी उतार चढ़ाव के साथ शुरू हुई और नवंबर में 68,000 डॉलर के नए उच्चतम स्तर पर पहुंच गई। अप्रैल और अक्टूबर में 60,000 डॉलर से अधिक के स्तर के साथ-साथ जुलाई में 30,000 डॉलर से कम के स्तर पर लुढ़कने के बाद, यह मौजूदा रिकॉर्ड उच्च स्थापित हुआ। विशेषज्ञ इसी भारी उतार-चढ़ाव की वजह से सलाह देते हैं कि पहले अपने क्रिप्टो इन्वेस्टमेंट को पूरे पोर्टफोलियो के 5 प्रतिशत से कम के स्तर तक सीमित कर लें।

 

डिस्क्लेमर: इस ब्लॉग का उद्देश्य है जानकारी देना, न कि इन्वेस्टमेंट के लिए कोई सलाह/टिप्स देना और न ही किसी स्टॉक को खरीदने या बेचने की सिफारिश करना।

एंजेल वन लिमिटेड क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्टमेंट और ट्रेड का समर्थन नहीं करता है। इस लेख का उद्देश्य सिर्फ शिक्षा और सूचना प्रदान करना है। इस तरह के जोखिम भरे इन्वेस्टमेंट में हाथ आजमाने से पहले अपने इन्वेस्टमेंट सलाहकार से बात करें।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

संबंधित ब्लॉग

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

नवीनतम ब्लॉग

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account