स्मॉल-कैप के बादशाह, पोरिंजू वेलियात की कहानी

5.0

10 अप्रैल,2021

7

1095

पोरिंजू वेलियाथ की सफलता की कहानी - स्मार्ट मनी
कम जानी-मानी कंपनियों के शेयर लेने में उनकी कुशलता के कारण लोग उन्हें स्मॉल-कैप का बादशाह कहते हैं।

वह हैं पोरिंजू वेलियात, केरल के निवेशक और पोर्टफोलियो मैनेजमेंट फर्म इक्विटी इंटेलिजेंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक। 

यदि आप शेयर बाजार में निवेशक बनना चाहते हैं, तो वेलियात जैसे सफल निवेशकों के नक्शेकदम पर चलने से आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि वैल्यू स्टॉक कैसे चुनें। 

कौन हैं पोरिंजू वेलियात?

हो सकता है कि आप उनका नाम अक्सर न सुनते हों (क्योंकि वह लो प्रोफ़ाइल बनाए रखते हैं), लेकिन वह आज के सबसे सफल स्मॉल-कैप निवेशकों में से एक है। उन्होंने मुख्य रूप से छोटी कंपनियों में निवेश कर काफी मुनाफा कमाया है।

आइए, उनकी पृष्ठभूमि पर गौर करें और समझें कि उनकी सफलता की कहानी क्यों चर्चा का विषय है। 

वेलियात केरल में कोच्चि के पास स्थित चलकुडी गाँव के एक निम्न-मध्यमवर्गीय परिवार से हैं। वह लॉ ग्रेजुएट हैं। हालांकि, उन्होंने अपना करियर मुंबई में कोटक सिक्योरिटीज के साथ फ्लोर ट्रेडर के रूप में शुरू किया था। बाद में वह पराग पारिख सिक्योरिटीज जुड़ गए, जहां 1994 से 1999 तक उन्होंने रिसर्च एनालिस्ट के तौर पर काम किया।  

1999 के बाद, वह कोच्चि में अपने शहर वापस चले गए और 2002 में एक पोर्टफोलियो मैनेजमेंट कंपनी स्थापित की। वह अपना पोर्टफोलियो खुद देखते हैं और अन्य निवेशकों को निवेश की सलाह देते हैं। उन्होंने उन कंपनियों में सफलतापूर्वक निवेश किया, जिनसे अन्य निवेशक बचते थे। 

2013-2018 के बीच शेयर बाजार में तेजी के दौरान, मल्टी-बैगर्स में निवेश से उनके पोर्टफोलियो में भारी तेजी आई।         

पोरिन्जू अपने स्माल-कैप निवेश के लिए प्रसिद्ध है। लेकिन उनके पोर्टफोलियो में रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसे कुछ लार्ज-कैप और ब्लू-चिप कंपनी के शेयर भी हैं। वह ट्विटर पर बहुत सक्रिय है और अपने फॉलोअर के साथ निवेश के सुझाव साझा करते हैं। 2016 में, उन्होंने एक ट्वीट किया कि जियो के साथ रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी आने की संभावना है।

वेलियात की निवेश रणनीति

वेलियात की निवेश रणनीति दिलचस्प अध्ययन का विषय बन सकता है। उन्हें अपने समय के सर्वश्रेष्ठ वैल्यू स्टॉक पिकर के रूप में जाना जाता है। 

वेलियात को विशेष रूप से अच्छे कारोबार की संभावना वाली स्मॉल-कैप कंपनी के शेयर चुनने की क्षमता के लिए जाना जाता है। जैसे, उनके शुरूआती निवेश में से एक था जियोजित फाइनेंशियल सर्विस था, जो तब बेकार पेनी स्टॉक था। लेकिन उन्हें अपने निवेश के फैसले पर भरोसा था। बाद में यह एक मल्टी-बैगर स्टॉक साबित हुआ, जिसने कई गुना रिटर्न दिया। इसके बाद, वेलियात को एक बार फिर से खज़ाना हाथ लगा श्रेयस शिपिंग में निवेश के साथ। उनकी स्टॉक की पसंद उनकी निवेश शैली के बारे में बहुत कुछ ज़ाहिर करती है। वह कम समय में होने वाले मुनाफे के बजाय दीर्घकालिक मुनाफे का पूर्वानुमान लगते हैं।  

अपनी रणनीति के बारे में उन्होंने कहा, “मैं कम जानी-मानी और बढ़िया कारोबार करने वाली कंपनी खरीदता हूँ ताकि अधिकतम पोर्टफोलियो वैल्यू हासिल किया जा सके। मैं अन्य जानकार लोगों की तरह छोटी कंपनियों से दूर नहीं भागता। और मैं कई बार साफ़-सुथरी बैलेंस शीट, ईमानदार प्रबंधन और कारोबार के बारे में स्पष्ट कई बड़ी कंपनियों के शेयर नहीं खरीदता। यदि आप ऐसी कंपनियों में निवेश करते हैं, तो बैंक का एफडी आपके पोर्टफोलियो रिटर्न से बेहतर होगा।

ब्लू-चिप कंपनी के शेयर छोटी कंपनी के शेयरों की तुलना में धीमे चलते हैं जिनमें भारी उतार-चढ़ाव होता है। 

वह भावी मल्टी-बैगर शेयरों में निवेश करते हैं।

पोरिंजू वास्तव में एक सफल स्टॉक पिकर है। शेयरों पर भावी रिटर्न का अनुमान लगाने की उनकी क्षमता ने उन्हें अन्य निवेशकों से अलग स्थान दिया है। इसके अलावा, वह जोखिम लेने से नहीं घबराते।  जब उन्होंने जियोजित फाइनांस में निवेश किया, तो इसके खरीदार बहुत कम थे और इसे खराब पेनी स्टॉक माना जाता था।
लेकिन पोरिंजू ने इसमें निवेश करक सभी को चौंका दिया, जो सफल दांव साबित हुआ। 

उनकी दूसरी खरीद श्रेयस शिपिंग एंड लॉजिस्टिक थी, जिसे उन्होंने 2012 में 30 रुपये पर खरीदा था और बाद में 2015 में वे शेयर 839 रुपये पर बेच दिये।   

उन्होंने बाज़ार से निकलने के समय का सही आकलन किया और और समय पर बाहर निकल गए

वेलियात ने श्रेयस के शेयर को 700 रुपये में बेचा, जब यह अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। फिलहाल, कंपनी का शेयर 271 रुपये पर कारोबार कर रहा है। इससे संकेत मिलता है कि यह जानना कितना ज़रूरी है कि बाज़ार में खरीद-बिक्री के सही समय का आकलन और यह जानना कि कब निकलना है। 

उन्होंने बढ़िया कारोबार वाली कम जानी-मानी कंपनियाँ चुनीं

उनके पास शेयर बाजार में कम जानी-मानी बेहतरीन कंपनियों की पहचान करने की पैनी नज़र है। मसलन, उन्होंने गोकलदास एक्सपोर्ट्स या निर्विकार पेपर मिल्स जैसे शेयरों में तब निवेश किया जब किसी को भी उनके बारे में पता भी नहीं था। उन्होंने इन कंपनियों के कारोबार की गुणवत्ता पर ध्यान केंद्रित किया।   

वह ऐसे ईमानदार कंपनियां चुनते हैं जिनका कारोबार स्पष्ट दीखता हो 

शायद यह वैल्यू इन्वेस्टिंग के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है। वेलियात ऐसे इन्वेस्टर हैं जो हमेशा साफ़-सुथरी बैलेंस शीट, ईमानदार मैनेजमेंट और ठोस कारोबारी संभावना वाली कंपनियां पसंद करते हैं। जब उन्होंने जियोजित में निवेश किया तो उन्होंने सिर्फ ये विशेषताएं ही देखीं।   

वह डाइवर्सिफाय करते हैं

पोरिंजू वेलियात स्माल-कैप के बादशाह के तौर पर मशहूर हैं क्योंकि उनका पोर्टफोलियो स्माल-कैप कंपनियों के शेयर से भरा है। हालांकि, वह लार्ज-कैप और ब्लू-चिप कंपनियों में भी निवेश करते हैं। पोर्टफोलियो पर एक संतुलित रिटर्न के लिए विविधता ज़रूरी है। 

पोरिंजू वेलियात की कहानी हमें बताती है कि वित्त बाजार में पैसा कमाने का कोई एक मंत्र नहीं है जो सबके लिए उपयुक्त हो, और आपको ऐसा तरीका ढूँढना चाहिए जो आपके अनुकूल हो। 

उन्होंने अन्य सफल निवेशकों से अलग राह पर चलना चुना। जहांअन्य निवेशकों के पोर्टफोलियो बड़े नामों से भरे होते हैं, वेलियात ने अलग-थलग पड़े हीरों की तलाश की और उन पर दांव लगाकर सफल रहे। उनके अनुसार, वैल्यू इन्वेस्टिंग शेयरों में सफल निवेश का आधार है और बाजार की स्थिति जो भी यह बात हमेशा लागू रहेगी। उन्होंने जोर दिया कि सभी समझदार इन्वेस्टर और वैल्यू इन्वेस्टर चाहे आप नए निवेशक हों या अनुभवी, पोरिंजू वेलियात जैसे सफल निवेशकों से कुछ टिप्स लेने से आपको मुनाफे वाली रणनीति बनाने में मदद मिलेगी।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

संबंधित ब्लॉग

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

नवीनतम ब्लॉग

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account