2022 के सर्वोच्च 10 स्टॉक

30 अप्रैल,2022

7

74

icon
जानें कि 2022 के लिए कुछ अच्छे स्टॉक कौन से हैं और आपको अपना पैसा कहां लगाना चाहिए।

संक्षिप्त विवरण

यह समझना जरूरी है कि अपना पैसा कहाँ इन्वेस्ट किया जाए क्योंकि इनसे मुनाफा हो सकता है बशर्ते इन्वेस्टमेंट सावधानी और दूरदर्शिता से किया गया हो। पिछले कुछ महीनों में कोरोनो वायरस की महामारी में कमी दर्ज़ हुई है। मामलों में गिरावट शुरू हो गई है। इसने अर्थव्यवस्था को अपने महामारी-पूर्व के स्तर पर लौटने का मौका दिया है। लेकिन रूस-यूक्रेन युद्ध चिंता का विषय रहा है और इसका बाज़ार पर असर हुआ है, जैसा कि कच्चे तेल की कीमत के साथ-साथ सोने की कीमत में तेज़ी से स्पष्ट है। बाज़ारों में अनिश्चितता के कारण 2022 में इन्वेस्टमेंट के लिए कुछ अच्छे स्टॉक्स पर ध्यान देना चाहिए। ये सुझाव एंजेल वन की रिसर्च टीम ने इकट्ठे किये हैं।

  1. एम्बर लिमिटेड (टारगेट 4,150 रुपये) - एम्बर एंटरप्राइजेज इंडिया फिलहाल एयर कंडीशनर मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र की मार्केट लीडर है। गर्मी बढ़ने के साथ ग्राहकों के साथ-साथ रेवेन्यू भी बढ़ने की उम्मीद है। कंपनी कारोबार फैलाने के लिए नई जगहों की तलाश कर रही है और उम्मीद है इसे केंद्र सरकार की पीएलआई योजना से फायदा मिलेगा। इससे इसे पॉजिटिव आउटलुक मिलता है।
  2. अशोक लीलैंड लिमिटेड (टारगेट 175 रुपये) - कंपनी की मीडियम एवं हेवी कमर्शियल व्हीकल क्षेत्र में 28 प्रतिशत बाज़ार हिस्सेदारी है। उनकी नज़र लाइट कमर्शियल व्हीकल स्पेस में भी बढ़ते ट्रैक्शन पर है। हालांकि कोविड की दूसरी लहर से बिज़नेस के पहले के स्तर पर आने में देरी हुई है, लेकिन उम्मीद है कि बस सेगमेंट में रेवेन्यू बढ़ेगा। साथ ही, नई स्क्रैपेज पालिसी से कंपनी को फायदा होने और इन्वेस्टर्स के लिए रोमांचक संभावना बनाने की उम्मीद है।
  3. एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक (टारगेट 1,520 रुपये) - एयू एसएफबी फिलहाल प्रमुख एसएफबी में से एक है, जिसका कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट इस साल की तीसरी तिमाही तक 42 हजार करोड़ रुपये रहा। यह पूरे देश में फैला हुआ है। करीब 37 प्रतिशत एसेट अंडर मैनेजमेंट ऑटोमोबाइल क्षेत्र में है, जबकि 39 प्रतिशत एमएसएमई क्षेत्र में है। बैंक ने ग्रॉस और नेट एनपीए में कमी के साथ-साथ पिछली तिमाही में एडवांसेज़ में बढ़ोतरी दर्ज़ की। बैंक का नेट प्रॉफिट 2020 और 2023 के बीच 21.7 प्रतिशत सीएजीआर के करीब रह सकता है।
  4. फेडरल बैंक (टारगेट 135 रुपये) - फेडरल बैंक फिलहाल भारत के पुराने दौर के सबसे बड़े बैंकों में से एक है। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही के बाद बैंक के पास कुल 2.06 लाख करोड़ रुपये का एसेट था जिसमें डिपॉजिट 1.72 लाख करोड़ रुपये था। नेट इंटरेस्ट इन्कम और एडवांस बढ़ने से हाल की तिमाही के परिणाम भी पॉजिटिव रहे। एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक की तरह, फेडरल बैंक का भी एनपीए में भी गिरावट की संभावना है। हमें उम्मीद है कि आने वाले दिनों में बैंक की नेट इन्कम में 23.2 प्रतिशत सीएजीआर की बढ़ोतरी की उम्मीद है।
  5. एचडीएफसी बैंक (टारगेट 1,859 रुपये) – भारत के निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक का लोन साल की पहली छमाही में 12 लाख करोड़ रुपये और डिपॉजिट 14 लाख करोड़ रुपये था। लोन विभिन्न क्षेत्रों में बंटा है और इनमें से 46 प्रतिशत रिटेल लोन हैं और 54 प्रतिशत होलसेल लोन हैं। तीसरी तिमाही का परिणाम अच्छा रहा जिसमें बैंकों का एनपीए कम रहा। बैंक से ट्रैक रिकॉर्ड और एसेट क्वालिटी में लगातार सुधार से एचडीएफसी का वैल्यूएशन आकर्षक दिखता है।
  6. रामकृष्ण फोर्जिंग (टारगेट 1,545 रुपये) - आरकेएफएल फिलहाल भारत की प्रमुख फोर्जिंग कंपनियों में से एक है और घरेलू तथा विदेशी बाज़ार में मीडियम और हेवी कमर्शियल व्हीकल की मांग में बढ़ोतरी से फायदा होगा। कंपनी ने कैपिटल एक्स्पेंडीचर धीरे-धीरे ख़त्म कर दिया है और इससे पिछले दो वित्त वर्ष में वॉल्यूम बढ़ा है। नए प्रोडक्ट पेश करने और ऑपरेटिंग लीवरेज में सुधार से एबिट्डा मार्जिन बढ़ने की संभावना है।
  7. सुप्रजीत इंजीनियरिंग (टारगेट 520 रुपये) - सुप्रजीत इंजीनियरिंग दोपहिया वाहनों क्षेत्र में भारत का सबसे बड़ा ऑटोमोटिव केबल सप्लायर है। इस सिंगल प्रोडक्ट कंपनी में एक्सपोजर में डायवर्सिफिकेशन किया है। प्रोडक्ट कॉस्ट के लिहाज़ से कम्पटीटिव हैं, इसलिए वे अपने मौजूदा ग्राहकों से अधिक वॉलेट शेयर हासिल कर रहे हैं। जब इंडस्ट्री नेगेटिव थी, तब कंपनी ने पॉजिटिव ग्रोथ दर्ज कर भारत के ऑटो सेक्टर को पीछे छोड़ दिया था। इसकी बैलेंस शीट अच्छी है जिसे नए क्लाइंट के जुड़ने से और मज़बूती मिली है। टॉप ग्रेड अर्निंग के कारण कंपनी का मूल्यांकन प्रीमियम पर रहा है और यह उचित है।
  8. कार्बोरंडम यूनिवर्सल (टारगेट 1,100 रुपये) - क्यूमी अब्रेज़िव, सेरामिक और इलेक्ट्रो मिनरल प्रोड्यूस करती है। इसके प्रोडक्ट का उपयोग अलग-अलग तरह की इंडस्ट्री में होता है और यह इस क्ष्रेत्र की प्रमुख कंपनी है। कंपनी के हाल के बेहतर प्रदर्शन और डिमांड में सुधार के मद्देनज़र इसका आउटलुक पॉजिटिव है। हाल की तिमाहियों से स्पष्ट है कि मैनेजमेंट ने इसके वित्तीय प्रदर्शन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। विदेश में बेहतर प्रदर्शन के साथ, क्यूमी का कैश फ्लो और प्रॉफिट बेहतर रहने की उम्मीद है।
  9. स्टोव क्राफ्ट (टारगेट 1,288 रुपये) - एसकेएल का किचन और घरेलू उपकरणों का कारोबार है। इसका कारोबार मुख्य रूप से पिजन और गिल्मा ब्रांड के तहत काम करता है। कोविड के बाद, एसकेएल ने अपने कॉम्पेटीटर से बेहतर प्रदर्शन किया है और बाज़ार की बड़ी हिस्सेदारी हासिल की है। आने वाले दिनों में कंपनी के सेल्स और नेट इन्कम में बढ़ोतरी की उम्मीद है।
  10. शोभा लिमिटेड (टारगेट 1,054 रुपये) - कंपनी कमर्शियल रियल एस्टेट बाज़ार की प्रमुख कंपनी है और कॉन्ट्रैक्चुअल एब्सेस क्षेत्र में भी काम करती है। कंपनी बैंगलोर में डिमांड और सप्लाय के साथ 70 प्रतिशत रेजिडेंशियल प्री-सेल्स का दावा करती है। आईटी क्षेत्र में रिक्रूटमेंट बढ़ने के बीच रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी की मांग बढ़ने की उम्मीद है। इसके अलावा, रेडी टू मूव और अंडर-कंस्ट्रक्शन फ्लैटों की कम इन्वेंटरी शोभा डेवलपर्स को बाकियों से आगे रखती है। कंपनी की आने वाले वर्षों में 17 प्रोजेक्ट शुरू करने की योजना है और इसके पास 200 मिलियन वर्ग फुट का लैंड बैंक है जो मीडियम टर्म में नए लॉन्च के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा।

निष्कर्ष

ऊपर दिए गए लिस्ट के ज़रिये आपको संभावित इन्वेस्टमेंटों के बारे में बताने का प्रयास किया गया है जो आप कर सकते हैं। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ये केवल सुझाव हैं, और आपको हमेशा अपनी इन्वेस्ट करने और जोखिम सह पाने की ताकत का ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा, यह सबसे महत्वपूर्ण है कि आप पैसा इन्वेस्ट करने से पहले जोखिम आंक लें।

 

डिस्क्लेमर: इस ब्लॉग का उद्देश्य है सिर्फ जानकारी देना न कि इन्वेस्टमेंट के बारे में कोई सलाह /सुझाव देना या किसी स्टॉक की खरीद-बिक्री की सिफारिश करना।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

संबंधित ब्लॉग

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

नवीनतम ब्लॉग

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account