वॉरेन बफे का 2021 का पोर्टफोलियो: वॉरेन बफे के टॉप 5 स्टॉक

01 Jul, 2021

9 min read

703 Views

icon
जब बात इन्वेस्टमेंट की आती है, तो अनुभवी ट्रेडर और नौसिखिए दोनों की निगाह इन्वेस्टरों के खुदा - वॉरेन बफेट पर जाती है।

वॉरेन बफे का पोर्टफोलियो: ये रहा सारा ब्योरा

बफे के नेतृत्व में, इन्वेस्टमेंट फर्म बर्कशायर हैथवे ने एक फार्मूला अपनाया जिससे उन्हें बार-बार फायदा हुआ। 2020 में बर्कशायर हैथवे के पोर्टफोलियो में कुछ बदलाव हुए, और सबसे महत्वपूर्ण था इसकी पसंदीदा कंपनी एपल के स्टॉक की होल्डिंग में बदलाव। 

लेकिन बफे की होल्डिंग में हाल में हुए बदलाव की बात करने से पहले वॉरेन बफे के पोर्टफोलियो के ढाँचे पर ध्यान देना ज़रूरी है। जो बफे की रणनीति का अनुकरण करना चाहते हैं, वे यह समझें कि उनका निवेश पैटर्न बहुत सुसंगत और पारदर्शी है। वॉरेन बफे के पोर्टफोलियो में मुख्य रूप से बड़ी ब्लू-चिप कंपनियां हैं जिनके फंडामेंटल मज़बूत हैं, ये ऊंचा डिविडेंड देती हैं और इन्हें उचित मूल्य पर खरीदा गया है। इसके अलावा ओमाहा के ऑरेकल अपने शेयर को लॉन्ग टर्म के लिए होल्ड करने की रणनीति अपनाते हैं बजाय इसके कि बार-बार ट्रेड कर तेज़ी से मुनाफा कमाने की कोशिश करें। 

वॉरेन बफे के टॉप 5 स्टॉक 

बर्कशायर हैथवे के पोर्टफोलियो में शामिल टॉप 5 स्टॉक उस किस्म की इन्वेस्टमेंट की एकदम ठीक-ठीक तस्वीर पेश करते हैं जैसी इन्वेस्टमेंट की विश्व के इस सबसे लोकप्रिय, हाई प्रोफाइल इन्वेस्टर करने की तलाश होती है। इस मिश्रण में टेक्नोलॉजी, फाइनांस और कंज्यूमर गुड्स कंपनियों के स्टॉक शामिल हैं जो उन उद्योगों की अग्रणी कंपनियां हैं। 

एपल

बर्कशायर हैथवे के पोर्टफोलियो में सबसे बड़ी शेयरहोल्डिंग एपल के स्टॉक की है। इसके पास एपल के करीब एक अरब शेयर हैं। कंपनी ने 31 अरब डॉलर का शुरूआती इन्वेस्टमेंट के साथ 90.75 करोड़ शेयर खरीदे थे जिनका मूल्य 2020 में बढ़कर 120.4 अरब डॉलर हो गया। हालाँकि, 2020 की अंतिम दो तिमाहियों तक बर्कशायर ने एपल में अपने स्टॉक का एक बड़ा हिस्सा बेच दिया। इसने एपल के छह प्रतिशत शेयर बेचे लेकिन एपल अभी भी पूरे बर्कशायर हैथवे के कुल पोर्टफोलियो का 43.6 प्रतिशत है। बर्कशायर के पोर्टफोलियो में एपल सबसे बढ़िया बाजार मूल्य वाला स्टॉक है, और शेयरों की संख्या के मामले में दूसरा सबसे अच्छा बढ़िया शेयर है। 2020 के अंत में, एपल में बर्कशायर की हिस्सेदारी 117.71 अरब डॉलर की थी। 

बैंक ऑफ अमेरिका

बैंक ऑफ अमरीका 1.01 अरब शेयर के साथ बर्कशायर हैथवे की स्टॉक होल्डिंग में टॉप स्टॉक है। अगस्त 2020 तक इन शेयरों की कीमत 24.1 अरब डॉलर थी और जो फर्म के पोर्टफोलियो का करीब 10.8 प्रतिशत था। 2020 की तीसरी तिमाही में बफे ने कुछ अन्य बैंक शेयर बेचे, और बैंक ऑफ़ अमेरिका में और दो अरब डॉलर लगाए और 8.5 करोड़ शेयर खरीदे। साल 2011 में, बफे ने बैंक को अपने फाइनांस पर मजबूत पकड़ हासिल करने में मदद की थी जो 2008 के आर्थिक संकट के बाद प्रभावित हुआ था। बर्कशायर हैथवे ने 100,000 डॉलर प्रति शेयर के लिक्विडेशन वैल्यू पर दूसरे सबसे बड़े अमेरिकी बैंक के 50,000 शेयर खरीदे। बैंक ऑफ अमेरिका उन कई फिनांशियल स्टॉक में से एक है जो बर्कशायर के पास है। 

कोका कोला

वॉरेन बफे ने 1987 के बाजार में भारी गिरावट के बाद 1980 के दशक में कोका कोला के शेयर खरीदना शुरू किया था। बफे ने शुरुआती निवेश कंपनी के 1980 के मध्य के 'न्यू कोक' संकट के ठीक बाद किया था। अब यह बर्कशायर की तीसरी सबसे बड़ी शेयरहोल्डिंग है, इसका श्रेय कोका कोला के कोर प्रॉडक्ट की ड्यूरेबिलिटी को जाता है। सितम्बर 2020 में वॉरेन बफे के पोर्टफोलियो में कंपनी के 40 करोड़ शेयर थे जो कुल पोर्टफोलियो के 8.6 प्रतिशत के बराबर है। इनकी वैल्यू 19.2 अरब डॉलर थी। 

वैश्विक बाज़ार में पहुँच और 20 से अधिक ब्रांडों से सालाना एक अरब या इससे अधिक की आय के साथ कोका कोला की विकसित देशों में कोल्ड बेवरेज क्षेत्र में बाजार हिस्सेदारी लगभग 20 प्रतिशत है। उभरते बाजारों में यह हिस्सेदारी है 10 प्रतिशत। कोक की मार्केटिंग ने इसे दुनिया के सबसे अधिक लोकप्रिय ब्रांडों में से एक बना दिया है, इसके मजबूत को उधार दिया हैमूल बातें। 

अमेरिकन एक्सप्रेस

बैंक ऑफ अमेरिका के अलावा, अमेरिकन एक्सप्रेस शीर्ष पांच में जगह बनाने वाली दूसरी वित्तीय कंपनी है बर्कशायर के पोर्टफोलियो में स्टॉक। वॉरेन बफे के पोर्टफोलियो में 6.5 प्रतिशत हिस्सा अमेरिकन एक्सप्रेस का है और उनके पास इसके 15.16 करोड़ शेयर हैं जिनका मूल्य सितम्बर 2020 में 14.4 अरब डॉलर है। बफे के पास अमेरिकन एक्सप्रेस में1963 से हिस्सेदारी है, और उन्होंने कंपनी को कई संकटों से निपटने में मदद की है। बर्कशायर ने शुरुआत में अमेरिकन एक्सप्रेस के 15.16 करोड़ शेयर खरीदने के लिए 1.28 अरब डॉलर लगाए थे। 2020 के अंत में इनका मूल्य 18.33 बिलियन डॉलर हो गया। 

क्राफ्ट हेन्ज़

बर्कशायर हैथवे और 3जी कैपिटल ने 2013 में 28 अरब डॉलर में एचजे हेन्ज़ कंपनी का अधिग्रहण किया था जिसका बाद में क्राफ्ट के साथ विलय हो गया। पिछले कुछ साल में हालांकि कंपनी के शेयरों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है लेकिन लगता है कि बफे को कंपनी में पूरा भरोसा है। मर्जर से डेट बढ़ा जिसने इसके मार्केटिंग ऑपरेशन और इनोवेशन को और सीमित कर दिया। सितंबर 2020 में, बफे की फर्म के पास 9.5 अरब डॉलर के 32.56 करोड़ शेयर थे, जो पूरे वॉरेन बफे पोर्टफोलियो का 4.2 प्रतिशत है। मार्च में यह बर्कशायर के निवेश का 4.5 प्रतिशत था, जिसकी कीमत 13 अरब डॉलर थी। 

पिछली तिमाही में बर्कशायर हैथवे ने 6.45 अरब डॉलर के शेयर बेचे और 2.57 अरब डॉलर के शेयर खरीदे। 2021 की पहली तिमाही में, फर्म ने 6.6 बिलियन डॉलर के अपने ही शेयर वापस खरीदे। इसके बाद बर्कशायर हैथवे ने 2020 में 27.4 अरब डॉलर में अपने शेयरों की पुनर्खरीद की। वॉरेन बफे के टॉप 5 स्टॉक जिनकी चर्चा ऊपर की जा चुकी है, उनके अलावा वॉरेन बफे के पोर्टफोलियो में शामिल टॉप 10 स्टॉक में वेरिज़ॉन, यूएस बैनकॉर्प, जनरल मोटर्स, बैंक ऑफ़ न्यूयॉर्क मेलन और वेल्स फ़ार्गो शामिल है। 

निवेश रणनीति

बफे और उनकी फर्म का ध्यान वैल्यू इन्वेस्टिंग पर होता है, जिसके तहत ट्रेडर ऐसे स्टॉक खरीदना चाहता है जिनकी कीमत उनकी इंट्रिंज़िक वैल्यू से कम होती है - या जो अंडरवैल्यूड शेयर होते हैं। कंपनी के फंडामेंटल का आकलन और यह अंदाज़ा लगा कर कि मौजूदा मार्केट वैल्यू उचित है या नहीं, इन्वेस्टर यह निर्धारित कर सकता है कि शेयर अंडरवैल्यूड है या नहीं। यदि शेयर अपने इंट्रिंज़िक वैल्यू से कम कीमत पर ट्रेड कर रहा होता है तो वैल्यू इन्वेस्टर उन्हें खरीदता है। यदि अधिक इन्वेस्टर्सों को उनके मूल्य का एहसास हो तो भविष्य में ये कीमत बढ़ सकती है। 

अब कुछ इन्वेस्टर्स का मानना है कि स्टॉक हमेशा फेयर वैल्यू पर ट्रेड करते हैं और इससे अंडरवैल्यूड शेयर की पहचान और खरीद मुश्किल हो जाती है जिन्हें बात में ऊंची कीमत पर बेचा जा सके। हालांकि, बफे का मानना है कि बाजार आखिरकार इन अंडरवैल्यूड शेयरों को उचित तरीके से देखने लगता है। इसके अलावा, वह एक में निवेश करने में विश्वास करता है अपनी समग्र क्षमता के आधार पर लंबी अवधि के लिए कंपनी। पूंजीगत लाभ के बजाय, उनका ध्यान हिस्सेदारी के मालिक होने पर है उन कंपनियों में जिनके पास अच्छी कमाई करने का वादा है। 

निष्कर्ष

बफे अपने निजी जीवन में जिस तरह बहुत कम पैसे खर्च करते हैं, उसी तरह बफे किसी कंपनी के स्टॉक खरीदते समय भी अच्छे सौदे की तलाश में रहते हैं। बर्कशायर हैथवे स्टॉक खरीदने से पहले जिन चीजों पर ध्यान देता है उनमें शामिल है कंपनी का प्रदर्शन, शेयरों की कीमत, इसका प्रॉफिट मार्जिन और डेट, कमॉडिटी पर निर्भरता और यह कि कंपनी पब्लिक है या नहीं। बर्कशायर का बेहतरीन पोर्टफोलियो वैल्यू इन्वेस्टिंग के सिद्धांतों और कुछ क्षेत्रों की कंपनियों के शेयरों के लिए विशेष आकर्षण पर आधारित है।

How would you rate this blog?

Comments (1)

sudhir sahoo

05 Jul 2021, 04:20 PM

Very useful blog for a investor.

Add Comment

Related Blogs

  • icon

    एलआईसी सीएफओ को नियुक्त...

    12 Nov, 2021

    6 min read

    READ MORE
  • icon

    स्टॉक मार्केट में 2021 में...

    04 Jul, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    एकमुश्त इन्वेस्टमेंट के...

    22 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    गो एयर आईपीओ: गो एयर आईपीओ...

    18 Jul, 2021

    11 min read

    READ MORE
  • icon

    स्टॉक मार्केट में सीएमपी क्या है?

    21 Jul, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    इक्सिगो आईपीओ: इक्सिगो की...

    14 Jul, 2021

    10 min read

    READ MORE
  • icon

    किसी भी आईपीओ में इन्वेस्ट...

    05 Jul, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग: बेगिनर्स गाइड

    16 Sep, 2021

    6 min read

    READ MORE
  • icon

    आईपीओ अलर्ट! देवयानी...

    16 Jul, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    कंपनियां क्यों चुन रही हैं...

    22 Sep, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    कैपिटल गेन्स टैक्स क्या है...

    21 Sep, 2021

    11 min read

    READ MORE
  • icon

    टॉप 10 क्रिप्टोकरेंसी...

    19 Jul, 2021

    10 min read

    READ MORE
  • icon

    बाय एंड नेवर सेल किस्म के इन्वेस्टर

    02 Jul, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    कमॉडिटी की कीमतों में उछाल...

    23 Jun, 2021

    7 min read

    READ MORE
  • icon

    2021 में आ रहे हेल्थकेयर...

    03 Jul, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    पोर्टफोलियो का...

    04 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    एसआईपी के बारे में हर बात...

    21 Jun, 2021

    6 min read

    READ MORE
  • icon

    फार्मईज़ी की सफलता की कहानी

    15 Jul, 2021

    10 min read

    READ MORE
  • icon

    एशियन पेंट्स: 17 साल में...

    21 May, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    सक्सेस स्टोरी - अनिल अंबानी

    30 Sep, 2021

    6 min read

    READ MORE
  • icon

    2021 में बेगिनर्स के लिए...

    01 Sep, 2021

    11 min read

    READ MORE
  • icon

    भारत में कर छूट: सरल व्याख्या

    18 Jun, 2021

    10 min read

    READ MORE
  • icon

    ईएलएसएस फंड क्या हैं?

    10 Sep, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    वॉरेन बफे: ओमाहा के ओरेकल...

    01 Nov, 2020

    5 min read

    READ MORE
  • icon

    ज़ोमैटो के आईपीओ प्लान पर एक नज़र

    25 Jun, 2021

    10 min read

    READ MORE
  • icon

    नए ट्रेडर्स के लिए सरल...

    13 Jul, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    स्टॉक मार्केट में...

    17 Jul, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    कोविड की दूसरी लहर में...

    07 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    कौन से ईवी स्टॉक उपलब्ध...

    25 May, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    इलॉन मस्क की सक्सेस...

    06 Sep, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    लॉरस लैब्स के शेयर: 3...

    31 Aug, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    क्रिप्टो, भारी उतार-चढ़ाव...

    08 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    ट्रेडिंग का भविष्य

    20 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    जेफ बेजॉस की सक्सेस...

    03 Sep, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    साल 2021 में टेलीकॉम...

    26 May, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    स्टॉक डिविडेंड पर टैक्स...

    07 Sep, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    स्टॉक ट्रेडिंग में मोमेंटम क्या है?

    02 Sep, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    क्या आपको पेटीएम के आईपीओ...

    08 Sep, 2021

    9 min read

    READ MORE
  • icon

    भारत के कमॉडिटी मार्केट से...

    20 Sep, 2021

    12 min read

    READ MORE
  • icon

    ओयो की सक्सेस स्टोरी:...

    17 Sep, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    टर्म इंश्योरेंस के बारे...

    24 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    क्या मोट स्टॉक की पहचान...

    28 May, 2021

    7 min read

    READ MORE
  • icon

    चौथी तिमाही के परिणामों के...

    19 Jun, 2021

    7 min read

    READ MORE
  • icon

    सेंसेक्स के इतिहास में...

    06 Jun, 2021

    8 min read

    READ MORE
  • icon

    लॉकडाउन के बावजूद होटल...

    09 Jun, 2021

    6 min read

    READ MORE

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

Latest Blog

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।


किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

वेबसाइट देखे
smartbuzz_logo smartbuzz_promotion_img

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।

smartbuzz_logo

किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

smartbuzz_promotion_img

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img

#स्मार्टसौदा न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Open an account