शुरुआती के लिए मॉड्यूल

ट्रेडिंग कैलेंडर

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

भारतीय शेयर बाजार का समय - शेयर बाजारों के 24 घंटे

3.4

icon icon

भारतीय शेयर बाजार भारत में विशिष्ट समय मानकों के तहत व्यापार करता है । सोमवार से शुक्रवार तक, सुबह 9.15 बजे से दोपहर 3.30 बजे के बीच, बाजार ब्रोकरेज एजेंसी के जरिए खुदरा ग्राहकों के लिए व्यापार करता है । भारत में दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज हैं- बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), जिन्हें निवेशक सिक्योरिटीज की खरीद व बिक्री के लिए खासतौर पर पसंद करते हैं ।

भारतीय शेयर बाजार में व्यापार के समय को तीन वर्गों में विभाजित किया गया है-

प्री-ओपनिंग टाइमिंग-

तीन समयों का पहला सेक्शन, सुबह 9.00 से 9.15 बजे के बीच शुरू होता है । यह सेक्शन विशेष रूप से बिक्री और खरीद के लिए सिक्योरिटी के ऑर्डर देने से संबंधित है । यह मिनट स्पेसिफिक डीलिंग है मतलब इस 9.00 से 9.15 बजे के बीच के समय को भी आगे तीन भागों में, मिनटों के हिसाब से बांटा गया है, जिसमें की हर सेट में अलग काम होता है ।

सुबह 9.00 बजे- 9.08 बजे

शेयर बाजार में पहली विंडो सुबह 9 बजे खुलती है । इस दौरान, निवेशक लेनदेन के लिए अपने ऑर्डर देते हैं । एक बार व्यापार शुरू होने के बाद, लेनदेन को ऑर्डर सीक्वेंस के हिसाब से ही आगे बढ़ाया जाता है । इस समय के दौरान, निवेशक ऑर्डर को बदल या रद्द भी कर सकते हैं, लेकिन इस 8 मिनटों के सेशन के बाद कोई ऑर्डर नहीं दिया जा सकता है।

9.08 बजे- 9.12 बजे

यह सेशन बहुत जरूरी होता है, क्योकि 9.08 बजे सुबह से 9.12 बजे के बीच, सिक्योरिटी की कीमतें निर्धारित की जाती हैं । लेनदेन पर सटीकता सुनिश्चित करने के लिए कीमतों को सिक्योरिटी की मांग और आपूर्ति अनुपात के एवज में तय किया जाता है।

सुबह 9.08 बजे - 9.12 बजे।

भारतीय शेयर बाजार के समय का यह सेक्शन सिक्योरिटी के मूल्य निर्धारण के लिए जिम्मेदार होता है। मूल्य मिलान ऑर्डर क्रमशः उन माँगों और आपूर्ति मूल्यों द्वारा उन निवेशकों के बीच सटीक लेनदेन सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है, जो सिक्योरिटी खरीदना या बेचना चाहते हैं । अंतिम कीमतों का निर्धारण, जिस पर सामान्य भारतीय शेयर बाजार के समय पर व्यापार शुरू होगा, एक बहुपक्षीय आदेश मिलान प्रणाली के जरिए किया जाता है।

मूल्य मिलान ऑर्डर उस मूल्य को निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जिस पर भारतीय शेयर बाजार के समय के एक सामान्य सत्र के दौरान सिक्योरिटी का लेन-देन होता है।

हालांकि, पहले से ही दिये गए किसी भी आदेश मे संशोधन का लाभ आपको इस सेशन मे नहीं मिलता है ।  

9.12 बजे - 9.15 बजे।

 यह समय, प्री-ओपनिंग टाइमिंग और सामान्य भारतीय शेयर बाजार के समय के बीच ट्रांजिशन पीरियड के रूप में काम करता है । लेनदेन के लिए कोई भी अतिरिक्त ऑर्डर इस समय के दौरान नहीं किए जा सकते है । इसके अलावा, वह मौजूदा दांव जिन्हें पहले से ही 9.08 बजे - 9.12 बजे के बीच लगाया हुआ हैं, इन्हें भी रद्द नहीं किया जा सकता है। 

सामान्य सत्र

यह प्राथमिक भारतीय शेयर बाजार की टाइमिंग है जो सुबह 9.15 बजे से 3.30 बजे तक चलती है । इस समय के दौरान किया गया हर लेनदेन एक द्विपक्षीय ऑर्डर मिलान प्रणाली को फॉलो करता है, जिसमें मांग और आपूर्ति बलों के माध्यम से मूल्य निर्धारण किया जाता है ।

द्विपक्षीय ऑर्डर मिलान प्रणाली अस्थिर है, जिससे बाजार में कई उतार-चढ़ाव उत्पन्न होते हैं, जिसका असर हमे अंतत: सिक्योरिटी की कीमतों में दिखायी देता है । इस अस्थिरता को नियंत्रित करने के लिए ही, प्री-ओपनिंग सत्र के लिए मल्टी-ऑर्डर सिस्टम तैयार किया गया था और इसे भारतीय शेयर बाजार के समय में शामिल किया गया था ।

 

पोस्ट क्लोजिंग सेशन

भारत में स्टॉक मार्केट क्लोजिंग टाइम 3.30 बजे सेट किया गया है । इस अवधि के बाद कोई भी विनिमय नहीं होता है । हालाँकि, समापन मूल्य का निर्धारण इस समय के दौरान किया जाता है, जिसका अगले दिन की सिक्योरिटी मूल्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है ।

भारत में शेयर बाजार के बंद होने के समय को दो सेशन में विभाजित किया जा सकता है -

3.30 बजे - 3.40 बजे -

समापन मूल्य की गणना, 3 बजे से 3.30 बजे के बीच स्टॉक एक्सचेंज पर सिक्योरिटी के व्यापार में कीमतों के वेटेड एवरेज का उपयोग करके की जाती है । निफ्टी, सेंसेक्स, एसएंडपी ऑटो जैसे बेंचमार्क और सेक्टर इंडेक्स की क्लोजिंग कीमतों के निर्धारण के लिए, लिस्टेड सिक्योरिटीज की औसत कीमतों को ध्यान में लिया जाता है । 

3.40 बजे - शाम 4 बजे

यह अवधि स्टॉक मार्केट का क्लोजिंग से पहले का समय है जब अगले दिन के व्यापार के लिए बोलियाँ लगाई जा सकती हैं । इस समय के दौरान लगाी बोलियों या बिड्स को ही कनफर्म किया जाता है, बशर्ते बाजार में पर्याप्त रूप से खरीदार और विक्रेता मौजूद हों । भले ही बाजार मूल्य में बदलाव हो गया हो तो भी लेन-देन निर्धारित मूल्य पर ही पूरे होते हैं ।

 इस तरह, हमे पूंजीगत लाभ मिल सकता है अगर ओपनिंग प्राइस, एक निवेशक द्वारा लगाए गयी क्लोजिंग प्राइस से ज्यादा है जो पहले ही अपनी बोली लगा चुके हैं । अगर क्लोजिंग प्राइस, ओपनिंग शेयर प्राइस से ज्यादा है, तो सुबह 9 बजे - 9.08 बजे की बहुत कम समय के लिए खुलने वाली विंडो के दौरान बोलियां रद्द की जा सकती हैं।

भारत में समग्र शेयर बाजार के परिचालन समय को नीचे दी गयी टेबल द्वारा समझा जा सकता है:

सीरियल नंबर

नाम

समय 

1.

प्री-ओपनिंग सेशन

9.00 a.m. – 9.15 a.m.

2.

नॉर्मल सेशन

9.15 a.m. – 3.30 p.m.

3.

क्लोसिंग सेशन

3.30 p.m. – 4.00 p.m.

भारत में, शेयर बाजार में व्यापार केवल एक विशिष्ट समय अंतराल के दौरान किया जा सकता है। खुदरा ग्राहकों को एक ब्रोकरेज एजेंसी के माध्यम से सप्ताह के दिनों में, सुबह 9.15 बजे से 3.30 बजे के बीच इस तरह का लेनदेन करना पड़ता है। अधिकांश निवेशक भारत में प्रमुख स्टॉक एक्सचेंजों - बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) पर सूचीबद्ध सिक्योरिटीज की खरीद / बिक्री करते हैं। भारतीय शेयर बाजार का समय इन दोनों प्रमुख स्टॉक एक्सचेंजों के लिए समान है।

व्यापार के लिए भारतीय शेयर बाजार का समय तीन खंडों में विभाजित है:

 निष्कर्ष

अब जब आप 24 घंटों के बाज़ारों की बारीकियों को समझते हैं, तो हम अगले बड़े विषय पर चलते हैं- ट्रेडिंग के 12 महीने। इसके बारे में और जानने के लिए, अगले अध्याय पर जाएँ।

अब तक आपने पढ़ा

  • प्री-ओपनिंग टाइमिंग सुबह 9 बजे से 9.15 बजे के बीच होती है। यह खंड विशेष रूप से बिक्री और खरीद के लिए सिक्योरिटी के ऑर्डर देने से संबंधित है।
  • सामान्य सत्र सुबह 9.15 बजे से 3.30 बजे तक चलने वाला प्राथमिक भारतीय शेयर बाजार का समय है। एक द्विपक्षीय ऑर्डर मिलान प्रणाली के बाद, मूल्य निर्धारण मांग और आपूर्ति बलों के माध्यम से किया जाता है।
  • पोस्ट क्लोजिंग सत्र दोपहर 3:30 बजे बाजार को बंद करने को संदर्भित करता है। इस अवधि के बाद कोई विनिमय नहीं होता है, हालांकि, समापन मूल्य को अंतिम रूप दिया जाता है जो अगले दिन, सिक्योरिटी के मूल्य के लिए महत्वपूर्ण है।
icon

अपने ज्ञान का परीक्षण करें

इस अध्याय के लिए प्रश्नोत्तरी लें और इसे पूरा चिह्नित करें।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account