शुरुआती के लिए मॉड्यूल

शेयर बाजार का परिचय

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

क्या भाव लगाया? – शेयर बाज़ार का फ्रंट एंड

4.2

icon icon

अब जब आपके पास वित्तीय बाज़ारों की सामान्य जानकारी और शेयर बाज़ार के सिद्धांतों के बारे में जान लिया है, अब समय आ गया है शेयर बाज़ारों में निवेश और कारोबार की वास्तविकता पर रुख करने का।  वर्चुअल बाज़ार में पहली बार कदम रखने वाले व्यापारी के तौर पर आपके लिए कौन-से पोर्टल उपलब्ध हैं? और वे कौन से संसाधन हैं जो आपको शेयर बाज़ारों के फ्रंट एंड से कारोबार करने में मदद कर सकते हैं?

ये कुछ ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब हम इस अध्याय में आगे देंगे। तो, सीट बेल्ट बांध लें और बाज़ार के ज्ञान की इस यात्रा के लिए तैयार हो जाएं! 

वे कौन से गेटवे हैं जिनके माध्यम से आप जैसे निवेशक बाज़ारों तक पहुंच बना सकते हैं?

मान लें कि आप एक स्थानीय फ़ोटोग्राफ़र से मिलते हैं। उनमें से कुछ अपने फोन कैमरों से काम कर सकते हैं। कई  लोग कम बजट वाले DSLR का उपयोग करते हैं। वहीं पेशेवर फोटोग्राफर, निश्चित रूप से एक बेहतरीन कैमरा के साथ काम करते हैं और शायद दूसरे लेंस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आप देखते हैं, ये लोग अलग-अलग गैजेट्स का इस्तेमाल करते हैं लेकिन एक चीज़ जो उनमें समान है, वह यह है कि वे सभी फोटोग्राफर हैं।

और जैसे आप तस्वीर लेने के लिए कई प्रकार के उपकरणों का उपयोग कर सकते हैं, वैसे ही अलग-अलग रास्ते हैं जो आप वित्तीय बाज़ारों तक पहुंचने के मदद करते हैं। 

अगर आप इस क्षेत्र में नए हैं और अभी शेयर बाज़ारों में ट्रेडिंग शुरू कर रहे हैं, तो ये जानना आपके लिए  उन ट्रेडिंग टर्मिनलों के बारे में जानना मददगार होगा जिनके ज़रिए आप फ्रंट एंड से बाज़ार तक पहुँच सकते हैं ताकि आप अपने ट्रेड को निर्बाध रूप से पूरा कर सकते हैं। मोटे तौर पर, तीन प्रकार के पोर्टल हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं।

मोबाइल ट्रेडिंग ऐप्स

भारत के सभी प्रमुख स्टॉकब्रोकर मोबाइल ट्रेडिंग एप्लिकेशन का विकल्प देते हैं जो आपके स्मार्टफोन पर इंस्टॉल किए जा सकते हैं। शुरुआत करने वाले लोगों के लिए बिल्कुल सही, ये स्मार्टफोन ऐप्स आपको बाज़ार के रूझानों पर रियल-टाइम अपडेट देते हैं और इनमें एक पारंपरिक ट्रेडिंग एप्लिकेशन की लगभग सभी विशेषताएँ होती हैं।

इन मोबाइल ट्रेडिंग ऐप्स के साथ, आप दुनिया में लगभग कहीं से भी शेयर बाज़ार में व्यापार कर सकते हैं और एक पल में अपने पसंदीदा शेयरों को खरीदने और बेचने का ऑर्डर दे सकते हैं। 

चलिए कुछ सुविधाओं पर एक नज़र डालते है जो आमतौर पर ऐसे ऐप्स में मौजूद होती हैं:

  • लाइव मार्केट डाटा - घरेलू और वैश्विक
  • पोर्टफोलियो होल्डिंग्स और विश्लेषण
  • शेयर सलाहकार सेवाएं
  • आईपीओ और म्यूचुअल फंड

वेब-आधारित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म

मोबाइल ट्रेडिंग एप्लिकेशन के अलावा, बहुत सारे स्टॉकब्रोकर वेब-आधारित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की सुविधा देते हैं। आप अपने डेस्कटॉप, लैपटॉप या यहाँ तक कि अपने स्मार्टफोन से वेब ब्राउजर के माध्यम से इन ट्रेडिंग टर्मिनलों तक पहुंच सकते हैं।

शुरुआत करने वाले लोगों के लिए और थोड़े अनुभव वाले व्यापारियों के लिए बेस्ट, ये वेब प्लेटफ़ॉर्म मोबाइल ट्रेडिंग से ज़्यादा सुविधाओं से लैस होते हैं। 

इन प्लेटफ़ॉर्म द्वारा दी जाने वाली कुछ विशेषताओं पर एक नज़र डालें:

  • एकीकृत वेल्थ मैनेजमेंट सुविधा 
  • बाज़ार अनुसंधान रिपोर्टों तक पहुंच
  • चार्टिंग टूल्स 
  • टेक्निकल इंडिकेटर्स 
  • ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को कस्टमाइज करने की क्षमता    

डेस्कटॉप ऐप्लिकेशन्स 

एंजेल ब्रोकिंग जैसे कुछ स्टॉकब्रोकर भी समर्पित डेस्कटॉप ट्रेडिंग ऐप्लिकेशन की सुविधा देते हैं जो आपको जल्दी और कुशलता से व्यापार करने में मदद करते हैं। विशेषज्ञ व्यापारियों के लिए डिज़ाइन किए गए ये एप्लिकेशन, आम तौर पर एक तेज़ और आसान व्यापार अनुभव के लिए सिंगल विंडो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म मुहैया करते हैं।

चूंकि सभी ज़रूरी कारोबारी विशेषताएँ सॉफ़्टवेयर में एक साथ ही मौजूद रहती हैं, इसलिए आपको संबंधित जानकारी तक पहुंचने के लिए टैब या विंडो बार- बार बदलने नहीं पड़ते।

डेस्कटॉप ट्रेडिंग एप्लिकेशन की कुछ प्रमुख विशेषताएँ इस प्रकार हैं:

  • मार्केट डेटा का रियल टाइम अपडेट 
  • प्लेटफॉर्म द्वारा सीधे कई सिक्योरिटीज़, आईपीओ और म्यूचुअल फंड में निवेश करने का विकल्प
  • कई व्यापारिक गतिविधियों के लिए कीबोर्ड शॉर्टकट बनाने की क्षमता
  • एकीकृत न्यूज़ फ्लैश है तथा व्यापार से जुड़ी मार्केट रिसर्च रिपोर्ट
  • वन-क्लिक पोर्टफोलियो डीटेल
  • तेज़ और आसान इनस्टॉल और अपडेट
 

जब आप ऑर्डर देते हैं तो शेयर बाज़ार ऐप के फ्रंट एंड पर क्या होता है?

जब आप अपने ट्रेडिंग ऐप या अपने वेब-आधारित ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से एक ऑर्डर देते हैं, तो आपको क्या करना है और फ्रंट एंड पर क्या होता है, इसे यहाँ पर संक्षिप्त में बताया गया है। 

जब आप खरीद के लिए ऑर्डर देते हैं:

  • सुनिश्चित करें कि आपके ट्रेडिंग खाते में पर्याप्त धनराशि है।
  • अपनी पसंद के ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं और जिस शेयर को आप खरीदना चाहते हैं, उसके लिए 'BUY' ऑर्डर दें।
  • ऑर्डर देते ही शेयर की रकम आपके ट्रेडिंग खाते से काट ली जाएगी।
  • क्लियरिंग और सेटलमेंट प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आपके द्वारा ख़रीदा गया शेयर आपके डीमैट खाते में जमा हो जाता है।

जब आप बिक्री का ऑर्डर देते हैं:

  • सुनिश्चित करें कि आपके डीमैट खाते में आपका शेयर है जिसे आप बेचना चाहते हैं।
  • अपनी पसंद के ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर जाएं और उस शेयर के लिए बिक्री 'sell' का ऑर्डर दें।
  • ऑर्डर करते ही आपके द्वारा बेचा गया शेयर आपके डीमैट खाते में ब्लॉक हो जाता है।
  • क्लियरिंग और सेटलमेंट की प्रक्रिया पूरी होने के बाद, बिक्री से मिलने वाले फंड आपके ट्रेडिंग खाते में जमा हो जाते हैं और शेयर आपके डेबिट खाते से घटा दिए जाते हैं।

वे कौन से संसाधन हैं जो आपको शेयर बाज़ार ऐप्स के फ्रंट एंड से व्यापार करने में मदद कर सकते हैं?

सही संसाधनों के बिना, शेयर बाज़ारों में निवेश और व्यापार के बारे में अच्छा फैसला लेना आपके लिए संभव नहीं हो सकता है। यहां कुछ संसाधन दिए गए हैं जो आपको ट्रेडिंग टर्मिनलों के माध्यम से स्टॉक खरीदने या बेचने में मदद कर सकते हैं।

दैनिक समाचार

एक जानकार और विश्वसनीय सूत्र और  रोज़मर्रा की ख़बरें आपको अपने देश और बाकी दुनिया की आर्थिक और राजनीतिक स्थितियों का आकलन करने में मदद कर सकती हैं। इन दो मोर्चों पर क्या हो रहा है, इस बारे में जानकारी होना बहुत ज़रूरी है, क्योंकि माइक्रो और मैक्रो तौर पर वातावरण में क्या कुछ चल रहा है इसका शेयर बाज़ार की चाल पर भी असर पड़ता है। 

बिज़नेस और फाइनेंस वेबसाइट

चूंकि शेयर बाज़ार समग्र वित्तीय स्थिति को दर्शाता है, इसलिए बिज़नेस और फाइनेंस वेबसाइटों पर नज़र बनाए रखना अहम हो जाता है। ये वेबसाइट हमारे देश के अलग-अलग क्षेत्रों, उद्योगों और कंपनियों के बारे में वित्तीय जानकारी देती हैं। घरेलू व्यापार और वित्तीय आंकड़ों के अलावा, ये वेबसाइट आपको भारतीय और वैश्विक बाज़ार की गतिविधियों के साथ-साथ दोनों का ट्रैक रखने में मदद करती हैं।

कंपनी रिपोर्ट

किसी कंपनी में निवेश करने से पहले उसको जानना बेहद ज़रूरी है। और इसे करने का बेहतर तरीका है कि कॉरपोरेट पत्रिका और कंपनी द्वारा प्रकाशित विभिन्न रिपोर्टों को पढ़ा जाए! ये रिपोर्ट समय-समय पर प्रकाशित की जाती हैं और वित्तीय, प्रबंधन और कंपनी के विज़न और मिशन को समझने में सहायता करती हैं। इन जटिल रिपोर्टों को पढ़ना और समझना अपने आप में एक कला है, जिसे हम आगले अध्यायों में विस्तार से देखेंगे।      

विश्लेषक की रिपोर्ट

इन्हें रिसर्च रिपोर्टों के रूप में भी जाना जाता है। इन रिपोर्टों को तीसरे पक्ष के विश्लेषकों द्वारा संकलित किया जाता है जो कंपनी से जुड़े नहीं होते। विश्लेषक रिपोर्ट किसी कंपनी, उसके वित्तीय और उसके द्वारा संचालित उद्योग पर एक बाहरी व्यक्ति के दृष्टिकोण को दिखाता है। आप इन रिपोर्टों में निहित जानकारी का उपयोग किसी कंपनी, एक क्षेत्र या एक उद्योग में निवेश का फैसला लेने के लिए कर सकते हैं।

निष्कर्ष

तो शेयर बाज़ारों के फ्रंट एंड पर आधारित ये अध्याय खत्म हुआ। जहाँ ट्रेडिंग टर्मिनल आपको फ्रंट मार्केट से शेयर बाज़ारों में ट्रेडिंग करने में मदद करते हैं, वहीं, बहुत कुछ है जो स्क्रीन के पीछे चलता है। इसके बारे में और जानने के लिए अगले अध्याय पर जाएँ।

अब तक आपने पढ़ा 

  • शुरुआत करने वालों के लिए बिल्कुल सटीक, मोबाइल ट्रेडिंग ऐप आपको बाज़ार के रूझानों पर रीयल टाइम अपडेट देते हैं और एक पारंपरिक ट्रेडिंग एप्लिकेशन की लगभग सभी विशेषताओं से लैस हैं। इन ऐप्स के साथ, आप दुनिया की किसी भी जगह से शेयर बाज़ार में व्यापार कर सकते हैं
  • आप अपने डेस्कटॉप, लैपटॉप, या यहां तक ​​कि अपने स्मार्टफोन से वेब ब्राउज़र के माध्यम से वेब-आधारित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग कर सकते हैं। शुरुआत करने वालों के लिए और थोड़े अनुभवी व्यापारियों के लिए बेस्ट, ये वेब प्लेटफ़ॉर्म मोबाइल ट्रेडिंग एप्लिकेशन से कहीं अधिक सुविधा प्रदान करते हैं।
  • डेस्कटॉप एप्लिकेशन विशेषज्ञ व्यापारियों के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। वे आम तौर पर एक तेज़ और सुचारु ट्रेडिंग अनुभव के लिए सिंगल-विंडो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करते हैं। चूंकि सभी ज़रूरी व्यापारिक विशेषताएँ सॉफ़्टवेयर में ही एकीकृत हैं, इसलिए आपको जानकारी तक पहुंचने के लिए कई टैब या विंडो नहीं बदलने पड़ते।
  • जब आप खरीदारी के लिए ऑर्डर देते हैं, तो आपके ट्रेडिंग खाते से धनराशि काट ली जाती है। और क्लीयरिंग और सेटलमेंट की प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आपके द्वारा ख़रीदा गया शेयर आपके डीमैट खाते में जमा हो जाता है।
  • जब आप बिक्री का ऑर्डर देते हैं, तो आपके द्वारा बेचा गया शेयर आपके डीमैट खाते में ब्लॉक हो जाता है। और एक बार क्लीयरिंग और सेटलमेंट की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद, बिक्री से प्राप्त धन आपके ट्रेडिंग खाते में जमा हो जाता है और शेयर आपके डीमैट खाते से घट जाता है।
  • रोज़मर्रा के समाचार, फाइनेंस वेबसाइट, कंपनी रिपोर्ट और विश्लेषक रिपोर्ट जैसे संसाधन आपको शेयर बाज़ारों के फ्रंट एंड के माध्यम से व्यापार करने में मदद कर सकते हैं।
icon

अपने ज्ञान का परीक्षण करें

इस अध्याय के लिए प्रश्नोत्तरी लें और इसे पूरा चिह्नित करें।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account