शुरुआती के लिए मॉड्यूल

ट्रेडिंग कैलेंडर

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

कमाई के मौसम में कैसे करें व्यापार?

4.2

icon icon

अर्निंग्स सीजन बाजार के लिए वित्तीय वर्ष के दौरान सबसे प्रत्याशित पॉइंट में से एक है। यह उन महीनों को संदर्भित करता है जब तिमाही रिपोर्ट जारी की जाती है- आमतौर पर जनवरी, अप्रैल, जुलाई और अक्टूबर में। और सीजन के प्रचार के साथ विश्लेषक की उम्मीदों, पूर्वानुमानों और उन परिणामों का सिलसिला शुरू होता है जो उन विशेषज्ञ विश्लेषणों को सही या गलत साबित करते हैं।

कंपनियां, दिनांक और समय

सबसे पहले, आपको यह जानना होगा कि कौन-सी कंपनियां किस विशेष दिन और समय के दौरान परिणाम जारी कर रही हैं। कंपनियां आमतौर पर बाजार खुलने से पहले, उसके दौरान और बाद में अपने परिणाम जारी करती हैं।

इस दौरान एक सफल व्यापारी बनने के लिए, आपको यह पता होना चाहिए ताकि आप उस अनुसार ट्रेड कर सकें।

निवेशकों के लिए अर्निंग्स सीजन क्या है?

यह बाजार में बहुत ही सक्रिय समय होता है क्योंकि प्रतिभागी अर्निंग्स रिपोर्ट की समीक्षा करते हैं, जो किसी कंपनी में उनकी पोजीशन को प्रभावित कर सकता है। आप अक्सर रिपोर्ट जारी करने वाली कंपनियों के शेयरों में बहुत सारी गतिविधि देख सकते हैं क्योंकि बाजार नए डाटा पर प्रतिक्रिया करता है। कंपनियों की अर्निंग्स रिपोर्ट का विश्लेषण मीडिया द्वारा किया जाता है और देखा जाता है कि यह विश्लेषकों की उम्मीद पर खरी उतरी है या नहीं। 

कुछ व्यापारी अर्निंग्स सीजन के लिए तत्पर रहते हैं, क्योंकि यह ऐसा समय होता है, जब वे अपनी पोजीशन की पुष्टि कर सकते हैं। अर्निंग्स से पहले स्टॉक को शॉर्ट करना  और कीमत में गिरावट देखना फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि मनोवैज्ञानिक गिरावट आमतौर पर बिकवाली को ट्रिगर करेगी। इसके विपरीत, उत्पादन या राजस्व में तेजी आने से शेयर की कीमत में ऊपर की ओर एक उछाल देखा जा सकता है। अन्य निवेशक पूरी तरह से अर्निंग्स सीज़न से बाहर हो जाते हैं, क्योंकि बहुत से "मानवीय" कारक एक साथ काम कर रहे होते हैं।

 

अर्निंग्स सीजन के दौरान व्यापार:

हमारे पास अर्निंग्स सीजन में व्यापार के लिए एक गहन मार्गदर्शिका है, लेकिन यहाँ याद रखने वाली कुछ महत्वपूर्ण बातें दी गई हैं:

1) 'अपेक्षित' परिणामों को जानें

प्रति शेयर राजस्व (बिक्री) और आय (ईपीएस) के आंकड़ों के संबंध में 'अपेक्षित' रिटर्न के बारे में सचेत और सूचित होना महत्वपूर्ण है क्योंकि किसी कंपनी की शेयर की कीमत की प्रतिक्रिया अक्सर उस राशि से निर्धारित की जा सकती है जितने से वह विश्लेषकों की उम्मीदों को पूरा करती है या चूक जाती है।

2) आकर्षक घोषणाओं को लेकर अलर्ट रहें

अर्निंग्स रिपोर्ट के साथ होने वाली कोई भी आकस्मिक घोषणाएं किसी कंपनी के शेयर की कीमत को भी प्रभावित कर सकती हैं। इनमें स्टॉक बायबैक / शेयर फिर से खरीदने के कार्यक्रम और कंपनी मार्गदर्शन सम्मिलित हो सकते हैं।

3) एक अपेक्षित कदम के कारण होने वाले अस्थिरता  को ध्यान में रखें

बाइनरी अर्निंग इवेंट के प्रतिक्रिया में दिशात्मक आधार पर होने वाली 'अपेक्षित चाल’ की पहचान करना बेहद मुश्किल हो सकता है। विकल्प के तौर पर, इसकी जगह अस्थिरता को ध्यान में रखकर निवेशक, घटना के गलत पक्ष में आए बिना, आने वाली हलचल के लिए तैयार रह सकते हैं।  

निष्कर्ष

अब जब आप अर्निंग्स सीजन के दौरान ट्रेडिंग की बारीकियों को समझते हैं, तो हम अगले बड़े विषय पर आगे बढ़ते हैं - भारतीय शेयरधारकों के लिए 10 अहम दिन? इसके बारे में और जानने के लिए, अगले अध्याय पर जाएं।

अब तक आपने पढ़ा

  • सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियां आमतौर पर तिमाही आधार पर वर्ष में चार बार अर्निंग रिपोर्ट जारी करती हैं।
  • ये तिमाही रिपोर्ट का बहुत इंतजार रहता है और आंकड़ों के आधार पर, निवेशकों द्वारा स्टॉक की कीमत बढ़ाने या गिराने के लिए जिम्मेदार हो सकती हैं।
  • विश्लेषकों के सर्वसम्मति के पूर्वानुमान और कंपनी के स्वयं के मार्गदर्शन के अनुमानों का उपयोग एक बेंचमार्क स्थापित करने के लिए किया जाता है जिसके जरिए वास्तविक आय परिणामों का मूल्यांकन किया जाता है।
  • निवेशकों को पता होना चाहिए कि क्या उम्मीद की जानी चाहिए, लेकिन अर्निंग सीजन के आसपास के अवसरों को खोजने के लिए अपने अपना विश्लेषण भी करना चाहिए।
icon

अपने ज्ञान का परीक्षण करें

इस अध्याय के लिए प्रश्नोत्तरी लें और इसे पूरा चिह्नित करें।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account