फाइबोनैचि रिट्रेसमेंट क्या हैं?

4.7

icon icon

फिबोनाची रिट्रेसमेंट, तकनीकी व्यापारियों के बीच एक लोकप्रिय उपकरण है और यह कुछ प्रमुख नंबरों पर आधारित होता है। 200 ईसा पूर्व के कुछ दावों के अनुसार, फिबोनाची सीरीज की उत्पत्ति का पता प्राचीन भारतीय गणितीय लिपियों द्वारा लगाया जा सकता है। हालांकि 12वीं शताब्दी में लियोनार्डो पिसानो बिगोलो, एक इतालवी गणितज्ञ जो अपने दोस्तों में फिबोनाची के रूप में जाना जाता था, इन्होंने ही फिबोनाची नंबर की खोज की।

यह एक लोकप्रिय उपकरण है जो तकनीकी व्यापारी, लेनदेन के लिए मूल्य स्तरों की पहचान करने, नुकसान को रोकने या कीमतों का लक्ष्य निर्धारित करने में सहायता के लिए इस्तेमाल करते हैं। यह रिट्रेसमेंट स्तर एक शेयर के लिए सपोर्ट और रेसिस्टेंस  स्तर भी प्रदान करते हैं। हालांकि यह वास्तव में सबसे प्रभावी तब होता है जब अतिरिक्त तकनीकी विश्लेषण उपकरण द्वारा पहचाने गए संकेतों या शर्तों की पुष्टि करते हैं।

फिबोनाची रिट्रेसमेंट क्या है?

फिबोनाची रिट्रेसमेंट सपोर्ट और रेसिस्टेंस स्तरों के निर्धारण के लिए तकनीकी विश्लेषण का एक तरीका है। इसका नाम फिबोनाची सीक्वेंस सीरीज के उपयोग के नाम पर रखा गया है। यह इस विचार पर भी आधारित है कि बाजार एक चाल के पूर्वानुमानित हिस्से को वापिस दोहराता है, जिसके बाद वे मूल दिशा में आगे बढ़ते रहते हैं।

फिबोनाची रिट्रेसमेंट का निर्माण

फिबोनाची सीरीज

फिबोनाची रिट्रेसमेंट स्तरों के निर्माण के लिए उपयोग किए जाने वाले फॉर्मूले को समझना व्यापारियों को जटिल परिस्थिति में व्यापार करते वक्त समझदारी से निर्णय लेने में मदद करता है। फिबोनाची नंबर्स, संख्याओं का एक क्रम है जिसमें प्रत्येक क्रमिक संख्या पिछली दो संख्याओं का जोड़ है। इतालवी गणितज्ञ ने संख्या और प्रकृति के बीच एक बहुत ही महत्वपूर्ण संबंध बताया है। उन्होंने केवल दो नंबर, 0 और 1 के साथ इस नंबर सीक्वेंस की शुरुआत की थी।  

1, 1, 2, 3, 5, 8, 13, 21, 34, 55, 89, 144, 233, इत्यादि

फिबोनाची सीक्वेंस 0 1 से शुरू होता है और उसके बाद प्रत्येक संख्या पिछली दो संख्याओं के जोड़ से बनती है।

फिबोनाची सीक्वेंस में प्रत्येक संख्या अगली संख्या का 61.8 प्रतिशत होती है।

फिबोनाची सीक्वेंस में, सीक्वेंस में मौजूद अगली संख्या के बाद वाले नंबर उसका  38.2 प्रतिशत होती है।

फिबोनाची सीक्वेंस में प्रत्येक संख्या सीक्वेंस में अगली दो संख्याओं के बाद की संख्या का 23.6 प्रतिशत होती है।

सी शेल के प्रत्येक भाग का वॉल्यूम फिबोनाची संख्या क्रम से बिल्कुल मेल खाता है। इस प्रकार इस शेल का प्रत्येक भाग अगले का 61.8 प्रतिशत है। यह एलो फूल के साथ इसी तरह काम करता है। अगर, हम इस फूल के प्राकृतिक कर्व के हिसाब से चलते हुए, इसे बराबर हिस्सों में अलग करते हैं तो हमें 61.8 प्रतिशत का परिणाम ही मिलेगा। यह अनुपात केवल जानवरों और फूलों में नहीं पाया जाता है, यह अनुपात शाब्दिक रूप से हमारे आसपास हर जगह मौजूद है। 

फिबोनाची रेशियो हमारे सामने लगातार मौजूद हैं और हमें इसकी आदत हो गई है। इस प्रकार इंसानी आंखें फिबोनाची रेशियो के आधार पर वस्तुओं को सुंदर और आकर्षक मानती है। इसके अलावा ऐप्पल और टोयोटा जैसी बड़ी संस्थाओं ने अपने लोगों का निर्माण फिबोनाची रेशियो के आधार पर किया है।

 

मजबूत अपट्रेंड

फिबोनाची के साथ प्राथमिक ट्रेंड को परिभाषित करने के लिए सिक्योरिटी के हर पुलबैक की जानकारी चाहिए होती है। अगर शेयर 50 प्रतिशत या उससे कम के रिट्रेसमेंट के साथ नई की ऊँचाईयों की एक शृंखला बनाता है तो शेयर एक मजबूत अपट्रेंड में होता है। 

साइडवेज मार्केट 

यदि कोई 61.8 प्रतिशत, 78.6 प्रतिशत या 100 प्रतिशत वाले रिट्रेसमेंट देखता है  तो शेयर के अगले चरण में जाने से पहले उसके बेसिंग फेस में होने की संभावना है।

फिबोनाची रिट्रेसमेंट अधिकतर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होते हैं जैसे, ट्रेडिंगव्यू और मेटाट्रेडर। फिबोनाची रिट्रेसमेंट कैंडलस्टिक्स कई मुफ्त ऑनलाइन चार्टिंग साइटों पर भी उपलब्ध हैं, जैसे इन्वेस्टिंग.कॉम, स्टॉकचार्ट्स.कॉम और याहू! फाइनेंस।

आपको फिबोनाची रिट्रेसमेंट स्तरों का उपयोग कैसे करना चाहिए?

एक ऐसी परिस्थिति के बारे में सोचें जहां आप एक स्टॉक खरीदना चाहते थे लेकिन स्टॉक में तेजी आने के कारण आप ऐसा नहीं कर पाए। ऐसी स्थिति में सबसे अधिक समझदारी का काम शेयर में एक रिट्रेसमेंट का इंतजार करना होगा। फिबोनाची रिट्रेसमेंट स्तर जैसे, 61.8%, 38.2% और 23.6%, उन संभावित स्तर का काम करते हैं जहाँ तक शेयर में करेक्शन आ सकती है। 

फिबोनाची रिट्रेसमेंट स्तरों की प्लॉटिंग करके व्यापारी इन रिट्रेसमेंट स्तरों की पहचान कर सकता है, और व्यापार में प्रवेश करने के अवसर के लिए अपना स्थान बना सकता है। कृपया किसी भी संकेतक की तरह, फिबोनाची रिट्रेसमेंट का उपयोग एक पुष्टि उपकरण के रूप में करें। 

आपको शेयर तभी खरीदना चाहिए जब वो लिस्ट की बाकी शर्तों पर भी खरा उतरे। दूसरे शब्दों में, शेयर को खरीदने में आपकी रूचि ज्यादा होगी अगर उसमें से सभी चीजें शामिल हों:

- पहचानने योग्य कैंडलस्टिक पैटर्न का गठन 

- स्टॉप लॉस, सपोर्ट और रेसिस्टेंस स्तर के साथ मेल खाता हो

- वॉल्यूम औसत से ऊपर हो

निष्कर्ष

अब जब आप फिबोनाची की मूल बातें समझ गए हैं तो अगले दो अध्यायों में डाव सिद्धांत के बारे में जानते हैं।

अब तक आपने पढ़ा

- फिबोनाची सीरीज फिबोनाची रिट्रेसमेंट का आधार बनाती है।

- एक फिबोनाची सीरीज में कई गणितीय गुण हैं। ये गणितीय गुण प्रकृति के कई पहलुओं में प्रचलित हैं।

- व्यापारियों का मानना ​​है कि फिबोनाची सीरीज शेयर चार्ट में उपयोग करने लायक है क्योंकि यह संभावित रिट्रेसमेंट स्तरों की पहचान करता है।

icon

अपने ज्ञान का परीक्षण करें

इस अध्याय के लिए प्रश्नोत्तरी लें और इसे पूरा चिह्नित करें।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account