Module for निवेशक

स्पेक्टर से लेकर शेयरहोल्डर तक

ओपन फ्री * डीमैट खाता लाइफटाइम के लिए फ्री इक्विटी डिलीवरी ट्रेड का आनंद लें

प्रारंभिक कवरेज रिपोर्ट क्या है?

icon

शर्मा जी लंबे समय से अपने सपनों के घर के लिए बचत कर रहे थे और अब वे इसे खरीदना चाहते हैं। वे इस पूरी खरीद प्रक्रिया को कैसे अंजाम देंगे? शर्मा जी अपने एक दोस्त के पास गए, जिनको रियल एस्टेट के बारे में काफी ज्ञान है। इन्होंने अपने उस साथी से क्षेत्र, इलाके और विभिन्न घरों की स्थिति के बारे में जानकारी ली। उनके साथी ने उन्हें ऐसे बिल्डरों की एक सूची सौंपी जिन्होंने हाल ही में घरों का निर्माण किया है। साथ ही उन्होंने शर्मा जी से बिल्डरों और उनकी प्रतिष्ठा के बारे में पता लगाने के लिए भी कहा। इस पर रिसर्च करने के बाद शर्मा जी को बिल्डर और उनके द्वारा निर्माण की जा रही विभिन्न प्रकार की प्रॉपर्टी पर एक रिपोर्ट मिली। उन्होंने उन लोगों की समीक्षा की जिन्होंने संपत्ति खरीदी है और निवेश की दर में वृद्धि की भी जांच की।

अब शर्मा जी क्या करेंगे? अब वह विशेषज्ञों से राय की तलाश कर रहे हैं कि क्योंकि उन्हें यह समझना है कि उन्हें अपना घर कहां खरीदना चाहिए ताकि उन्हें अपनी खरीद से अधिक लाभ मिल सके। 

ठीक इसी तरह फर्म भी ऐसे विशेषज्ञों की सेवा लेते हैं जो एक स्टॉक को कवर करते हैं और उन पर 50 से 100 पृष्ठों तक की लंबी रिपोर्ट प्रकाशित करते हैं। विश्लेषक के तौर पर भी जाने जाने वाले विशेषज्ञ, शेयर पर अपनी राय व्यक्त करते हैं। इस पूरी प्रक्रिया को इनिशिएटिंग कवरेज कहा जाता है। इनिशिएटिंग कवरेज से प्राप्त जानकारी से निवेश के लिए बेहतर निर्णय लेने में मदद मिलती है। आइए इस विषय पर आगे बढ़ते हुए कुछ महत्वपूर्ण जानकारियाँ हासिल करते हैं।

इनिशिएटिंग कवरेज क्या है?

स्टॉक कवर करने के दो अर्थ हो सकते हैं। एक यह हो सकता है कि ब्रोकर-डीलर के रिसर्च विभाग के पास कई स्टॉक होंगे जिन्हें वे कवर करते हैं, और फिर खरीद-बिक्री या होल्ड करने की सलाह देते हैं। ’कवर’ का दूसरा अर्थ यह हो सकता है कि शेयर में अपनी पोज़ीशन को शॉर्ट करने के लिए मौजूदा शेयर की ही और मात्रा खरीदना। 

वित्तीय मीडिया ‘कवरेज इनिशिएटेड’ चरण का इस्तेमाल यह घोषणा करने के लिए करता है कि ब्रोकरेज या विश्लेषक किसी शेयर पर अपनी पहली रेटिंग जारी करता है। आगे चलकर, विश्लेषक लगातार स्टॉक पर प्रकाशन करता है।

यह कैसे होता है?

ब्रोकरेज विश्लेषकों को पूर्ण सेवा और निवेश बैंकों में विभिन्न कंपनियों को फॉलो व उनका अध्ययन करने के लिए नियुक्त किया जाता है। विश्लेषक द्वारा जारी की गई सिफारिशों को ब्रोकर ग्राहकों व अन्य लोगों तक पहुंचाया जाता है। जब किसी कंपनी का कवरेज इनिशिएट या शुरू किया जाता है तो उस पर ब्रोकरेज की कुछ राय होती है।

कवरेज इनिशिएटेड का इस्तेमाल क्या है?

कवरेज इनिशिएटेड या तो एक बहुत बड़ी कंपनी के लिए होता है या किसी ऐसी कंपनी के लिए जो अभी सार्वजनिक हुई हो या उसके शेयर कुछ वक्त तक बाज़ार में मौजूद थे और वह संस्थागत निवेशकों को उसके व्यवसाय और डीटेल के बारे में जानने के लिए इच्छुक बनाने में सफल हो गई है। कंपनी को विश्लेषक द्वारा इनिशिएशन से पहले कोई आधिकारिक विश्लेषक रेटिंग नहीं मिलती, चाहे बहुत सारे प्रेस और मीडिया ने कंपनी के विकास के बाद के चरणओं में उनको बहुत कवर किया हो।

एक विश्लेषक की भूमिका क्या है?

विश्लेषक शेयरों पर सिफारिशें जारी करते हैं जिन्हें ग्राहकों और अन्य पार्टियों को भेजा जाता है। जब एक ब्रोकरेज किसी कंपनी को कवर करना शुरू करती है, तो इसका मतलब है कि कंपनी अब फर्म द्वारा फॉलो की जाएगी और ब्रोकरेज इस पर अपनी राय देगी।

 

कवरेज इनिशिएटेड और मूल्य लक्ष्य क्या है?

विश्लेषक अपनी रिपोर्ट में एक विशिष्ट लक्ष्य पर पहुंचते हैं। विश्लेषक इस आकंड़े पर बिक्री जैसे प्रमुख कारकों का विश्लेषण करके पहुँचते हैं। डिस्काउंटेड कैश फ्लो मॉडल में विश्लेषक कंपनी के भविष्य को नकदी प्रवाह से अलग करके पेश करेगा। एक मूल्य अनुमान पर पहुंचने के लिए विश्लेषक इसे डिस्काउंट करेगा।

वर्तमान मूल्य कीमत लक्ष्य बन जाता है। अगर डीसीएफ विश्लेषण के माध्यम से विश्लेषक का मूल्य कंपनी के वर्तमान शेयर मूल्य से अधिक है, तो वे सिक्योरिटी को अंडरप्राइस्ड आंकेंगे। इसके बाद वो इसे ‘खरीद’ यानी ‘बाय’ रेटिंग जारी करेंगे। वे सिक्योरिटी को ओवरप्राइस्ड बता कर इसके लिए बिक्री यानी ‘सेल’ रेटिंग भी जारी कर सकते हैं।

स्टॉक चयन क्या है?

एक अन्वेषक कई सारे स्टॉक को केवल फॉलो या कवर कर सकता है। फिर भी एक विशिष्ट स्टॉक समूह की रचना या क्षेत्र लगातार बदलती रहती है। कुछ संगठन व्यवसाय छोड़ देते हैं या दूसरों में सम्मिलित हो जाते हैं और नए संगठन बाज़ार में प्रवेश करते हैं। समय-समय पर रिसर्च लिस्ट में एक और स्टॉक जोड़ना महत्वपूर्ण या लाभदायक हो जाता है। और जब ऐसा होता है तो फर्म उस पर कवरेज शुरू कर देती है।

स्टॉक मूल्य पर कवरेज शुरू करने का प्रभाव क्या होता है?

स्टॉक मूल्य पर कवरेज की शुरूआत का प्रभाव अलग-अलग होता है। यह विशेषज्ञ, स्टॉक और फाइनेंसर फर्म व संगठन के बीच संबंध और स्टॉक रेटिंग/प्रस्ताव पर निर्भर करता है। अगर  विश्लेषक का इतिहास अच्छा है और उसका समावेश अच्छा है तो शेयर की कीमत में बढ़ोतरी हो सकती है। इसके विपरीत अगर ब्रोकर शेयर को इनिशियल पब्लिक ऑफर के दौरान उसे खरीदता है और विश्लेषक एक नकारात्मक सिफारिश देता है, तो कीमत गिर सकती है।

संस्थागत खरीद क्या है?

कई संस्थागत निवेशक विश्लेषकों द्वारा कवर और सिफारिश किए गई शेयरों को खरीदना पसंद करते हैं। जब कवरेज शुरू होता है तो वे पहली बार शेयर खरीदने की संभावना रखते हैं, जिससे कीमत अधिक हो जाती है।

मुफ्त विज्ञापन/ फ्री एडवर्टाइजिंग क्या है?

ब्रोकर अच्छी रिसर्च करने के लिए शुल्क लेते हैं। भले ही नए व्यापार और लाभ उत्पन्न करने के लिए कवरेज शुरू करने को  व्यापक रूप से घोषित किया जाता है, विश्लेषकों द्वारा प्रदान किए गए अपडेट और जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको एक ग्राहक या सब्सक्राइबर बनना ही होगा।

निष्कर्ष

अब आप कवरेज इनिशिएट करने में माहिर हो गए हैं! अगले अध्याय में हम चर्चा करेंगे कि कैसे डिविडेंड, एफपीओ और राइट्स इश्यू कीमतों को प्रभावित करते हैं।

अब तक आपने पढ़ा

जब एक ब्रोकर-डीलर का रिसर्च विभाग कई स्टॉक को कवर करता है और फिर उनको खरीदने, बेचने या होल्ड करने की सिफारिशें देते हैं, तो उसे इनिशिएटिंग कवरेज कहा जाता है।

icon

अपने ज्ञान का परीक्षण करें

इस अध्याय के लिए प्रश्नोत्तरी लें और इसे पूरा चिह्नित करें।

How would you rate this chapter?

टिप्पणियाँ (0)

एक टिप्पणी जोड़े

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.


The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

Visit Website
logo logo

Get Information Mindfulness!

Catch-up With Market

News in 60 Seconds.

logo

The perfect starter to begin and stay tuned with your learning journey anytime and anywhere.

logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account