आपको किस उम्र में निवेश करना शुरू कर देना चाहिए?

4.6

icon

क्या आपने अभी तक निवेश करना शुरू नहीं किया है?  हो सकता है कि शायद आपने शेयर बाज़ार में निवेश करने की दिशा में कुछ शुरुआती कदम उठाए हों लेकिन अभी भी आने वाले वर्षों के लिए कोई योजना नहीं बनाई हो। अगर ऐसा है, तो चिंता की कोई बात नहीं। हर किसी को कभी न कभी शुरुआत करनी पड़ती है। सही है ना?

अब प्रश्न उठता है कि - किस उम्र में निवेश करना शुरू किया जा सकता है?

क्या इसके लिए कोई विशेष समय है? तो हम कहेंगे, हाँ भी और नहीं भी।

निवेश कब शुरू करें इसका उत्तर काफी सरल है।  आपको व्यावहारिक रूप से जितनी जल्दी हो सके निवेश करना शुरू कर देना चाहिए। एक लोकप्रिय कहावत के अनुसार "निवेश करने का सबसे अच्छा समय कल था। और आने वाला समय बेहतरीन होगा।"

याद कीजिए कि हमने 'निवेश कब और कैसे करें?' शीर्षक वाले अध्याय में इस विषय पर चर्चा की थी।

जितनी जल्दी आप निवेश करना शुरू करेंगे, उतना ही अधिक कंपाउंडिंग यानी चक्रवर्ती ब्याज का लाभ उठा पाएंगे। क्या इस गणित को समझना आप लिए मुश्किल है? कोई बात नहीं, आप चिंता न करें। हम आपको सरल तरीके से यह समझने में मदद करेंगे कि, कैसे कंपाउंडिंग आपके निवेश में बड़ा अंतर ला सकता है।

कंपाउंडिंग का जादू

कंपाउंडिंग वास्तव में क्या है? यह निश्चित रूप से वह क्षमता है, जिससे आप अपने निवेश किए हुए धन से और अधिक धनराशि प्राप्त कर सकते हैं। आइए इसकी बारीकियों को समझते हैं। जब आप कुछ पैसा निवेश करते हैं, तो आप कुछ कमाई करते हैं, है ना? अब, अगर उस कमाई को मूल निवेश में वापस निवेश किया जाए, तो वे अधिक रिटर्न उत्पन्न करेंगे, ठीक है ना? इस तरह कंपाउंडिंग काम करती है।

दूसरे शब्दों में, आप अपने रिटर्न पर रिटर्न और ब्याज पर अर्जित करेंगे। अब, कंपाउंडिंग के प्रभाव को समझने के लिए कुछ संख्याओं पर एक नज़र डालते हैं।

परिदृश्य 1: शुरुआती निवेशक

मान लीजिए कि आप एक शुरुआती निवेशक हैं| आप 25 साल की उम्र में अपना पहला वेतन अर्जित करते हैं और तुरंत निवेश करना शुरू कर देते हैं। यहां अन्य विवरण दिए गए हैं।

Particulars (ब्यौरा)

Details (विवरण)

निवेश शुरू करने की उम्र 

25 वर्ष  

जिस उम्र में आप सेवानिवृत्त होने की योजना बना रहे हैं

60 वर्ष  

कुल निवेश अवधि

35 वर्ष  

हर महीने निवेश की गई राशि

रु. 5,000

चक्रवृद्धि ब्याज की दर

10% प्रति वर्ष

35 वर्षों के दौरान निवेश की गई कुल राशि

रु. 21 लाख 

35 साल बाद अपेक्षित राशि

रु.  1.91 करोड़

लाभ

रु.  1.71 करोड़

परिदृश्य 2: देर से निवेश करने वाले

अब, मान लें कि आपने निवेश को कुछ समय के लिए टाल दिया है| जब तक आप 35 वर्ष की आयु के होते हैं, तब तक आपके सहकर्मी समूह के लोग अपनी निवेश योजना पहले ही बना चुके होते हैं। अब आप निवेश करने का फैसला करते हैं। उस स्थिति में, क्या होता है इसका विवरण देखें।

Particulars (ब्यौरा)

Details(विवरण)

निवेश शुरू करने की उम्र 

35 वर्ष  

जिस उम्र में आप सेवानिवृत्त होने की योजना बना रहे हैं

60 वर्ष

कुल निवेश अवधि

25 वर्ष

हर महीने निवेश की गई राशि

रु. 7,000

चक्रवृद्धि ब्याज की दर

10% प्रति वर्ष 

35 वर्षों के दौरान निवेश की गई कुल राशि

रु.  21 लाख 

35 साल बाद अपेक्षित राशि

रु. 93.65 लाख 

लाभ

रु. 72.65 लाख 

दोनों परिदृश्यों में, निवेश की गई कुल राशि रु.21 लाख है। पहले मामले में, जब आपने 10 साल पहले निवेश करना शुरू किया था तो आप लाभ के रूप में 1.71 करोड़ रुपए कमा सकते थे। लेकिन इसके विपरीत, दूसरे मामले में यह लाभ केवल रु.72.65 लाख ही है| तो, देखा आपने कि अगर आप समय दें तो कंपाउंडिंग कैसे जादू की तरह काम करती है?

जल्दी निवेश शुरू करने का एकमात्र कारण सिर्फ कंपाउंडिंग ही नहीं है, बल्कि जल्द शुरुआत के और भी कई फायदे हैं। आइए उन्हें जानते हैं।

 जीवन में जल्दी निवेश शुरू करने के अन्य प्रमुख कारण

 यहां 3 अन्य प्रमुख कारण दिए गए हैं जो जल्द निवेश करने के फायदों को बताते हैं।

1. आपके पास अपने नुकसान की भरपाई के लिए अधिक समय होता है

जब आप जल्दी निवेश करना शुरू करते हैं, तो आप ज़्यादा जोख़िम भरे एसेट्स जैसे कि शेयर मार्किट, में निवेश कर  लाभ उठा सकते हैं| आखिरकार, जितना अधिक जोखिम, उतना अधिक संभावित इनाम। लेकिन बड़े इसमें नुकसान भी बहुत बड़ा हो सकता है। परंतु अगर आप जीवन में जल्दी निवेश करेंगे और किसी कारणवश आपको नुकसान होता है तो आपके पास अपने नुकसान की भरपाई के लिए अधिक समय होगा।

2. आप निःसंदेह अधिक बचत कर सकते हैं 

जब आप पहले निवेश करना शुरू करते हैं, तो आप अधिक बचत भी कर सकते हैं। आखिरकार, समय आपके पक्ष में है। इसलिए, यदि बाद में निवेश करते हैं तो उससे कही ज़्यादा आप जल्द निवेश करके कमा सकते हैं| और जैसा कि आपने ऊपर के उदाहरण में देखा, कंपाउंडिंग आपके द्वारा निवेश की गई राशि को किस प्रकार बढ़ाता है, जिससे आप समय के साथ धन बना सकते हैं।

3. आप एक बड़ा रिटायरमेंट फंड बना सकते हैं

सेवानिवृत्ति के लिए बचत करना हर किसी की वित्तीय योजना का हिस्सा होना चाहिए। यदि आप यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि, आपके सुनहरे वर्ष वास्तव में सुनहरे हों तो आपको अपनी वित्तीय स्थिति को सुरक्षित करना होगा| एक बार जब आप सेवानिवृत्त हो जाते हैं,और आपके पास कोई सेवानिवृत्ति निधि नहीं होती तो, आय के नियमित स्रोत ना होने के कारण स्थिति तनावपूर्ण हो सकती है| परंतु समय से शुरू करने से आप नियमित रूप से निवेश कर इसे पा सकते हैं।

समापन

तो, इस अध्याय का सार यह है कि, आप किसी भी उम्र में निवेश शुरू कर सकते हैं। साथ ही हमने जाना कि निवेश की जल्द शुरुआत करना क्यों महत्वपूर्ण है। आगे, हम आपके माता-पिता के पसंदीदा निवेश विकल्पों में से एक - फिक्स्ड डिपॉजिट्स पर एक नज़र डालेंगे।

 एक क्विक रीकैप

  • आपको कब निवेश करना शुरू करना चाहिए इसका उत्तर काफी सरल है। आपको व्यावहारिक रूप से जितनी जल्दी हो सके निवेश करना शुरू कर देना चाहिए।
  • जितनी जल्दी आप निवेश करना शुरू करेंगे, उतना ही अधिक समय आपको चक्रवृद्धि का लाभ उठाने के लिए मिलेगा| 
  • जल्दी शुरू करने का मतलब यह भी है कि आपके पास अपने नुकसान की भरपाई के लिए अधिक समय होगा।
  • आप अधिक बचत कर सकते हैं, और आप एक बड़ा रिटायरमेंट फंड भी बना सकते हैं।

प्रश्नोत्तरी

1. मैं कंपाउंडिंग का लाभ कैसे उठा सकता हूं?

कंपाउंडिंग का लाभ उठाने के लिए, जल्दी निवेश करना शुरू करें, लंबी अवधि के लिए निवेश करें और नियमित रूप से निवेश करते रहें।

2. क्या मुझे अपनी पहली नौकरी मिलने के समय से ही सेवानिवृत्ति के लिए बचत करना शुरू कर देना चाहिए?

हालांकि यह आपकी व्यक्तिगत देनदारियों और लक्ष्यों के आधार पर निर्भर करता है, फिर भी सेवानिवृत्ति के लिए जितनी जल्दी हो सके बचत शुरू कर देनी चाहिए। यदि आपके पास चुकाने के लिए कोई अन्य ईएमआई या कर्ज नहीं है, तो आप निश्चित रूप से अपनी पहली तनख्वाह अर्जित करने के समय से अपने सुनहरे वर्षों के लिए बचत करना शुरू कर सकते हैं।

3. क्या 30 की आयु में निवेश शुरू करना बहुत देरी कहलाएगी?

निवेश शुरू करने में कभी देर नहीं होती।  हालांकि यह सलाह दी जाती है कि आप जितनी कम उम्र में शुरू कर सकते हैं, उतना अच्छा है। देर से निवेश शुरू करना, कभी भी निवेश ना करने से तो बेहतर ही है। तो, उम्र के किसी भी पड़ाव पर चाहे वह 30 साल ही क्यों न हो, आप अपनी निवेश यात्रा शुरू कर सकते हैं। ध्यान रखें कि अपनी निवेश योजना को अपने लक्ष्यों और समय सीमा को ध्यान में रखते हुए उसी के अनुसार ही बनाएं।

आप इस अध्याय का मूल्यांकन कैसे करेंगे?

टिप्पणियाँ (0)

अधिक टिप्पणियां लोड करें एक टिप्पणी जोड़े

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

angleone_itrade_img angleone_itrade_img
Open an account