Module for निवेशक

आईपीओ, दिवाला, विलय और विभाजन

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

कंपनी सदा के लिए नहीं रहती हैं

01:07 Mins Read

कंपनी का जीवन कैसा है? यह एक दिलचस्प सवाल है, और आपको इस वीडियो में इसका जवाब मिलेगा।

Transcript

कंपनियाँ सदा के लिए नहीं रहती तो, आखिर में उनका होता क्या है? कभी-कभी, दो या उससे अधिक कंपनियाँ जो समान व्यवसाय करती हैं वो मिलकर एक नई कंपनी बन जाती हैं इसे मर्जर या विलय कहते हैं। कुछ मामलों में, एक बड़ी कंपनी, छोटी कंपनी को खरीद लेती हैं। इसे अधिग्रहण कहते हैं। दिवालिया होने के चलते कोई कंपनी बंद भी हो सकती है। दिवालिया होने का मतलब है कि कंपनी के एसेट कंपनी का ऋण चुकाने के लिए पर्याप्त नहीं हैं। जब किसी कंपनी को दिवालिया घोषित किया जाता है तो उसके शेयर अपना मूल्य खो देते हैं। और उन्हे स्टॉक एक्सचेंज से डीलिस्ट कर दिया जाता है। अगर आप किसी ऐसी कंपनी के शेयरधारक हैं जिसे दिवालिया घोषित कर दिया गया हो तो आपके निवेश का क्या होता है? इसके बारे में जानने के लिए स्मार्ट मनी का अगला अध्याय पढ़ें।

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।


किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

वेबसाइट देखे
logo logo

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।

logo

किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account