बीमा की शुरुआत कैसे हुई?

बीमा की शुरुवात, इसका रोचक इतिहास तथा इसका बाज़ारीकरण।

Transcript

बीमा की शुरुआत कैसे हुई? क्या आपने मशहूर लोगों को टीवी, रेडियो और इंटरनेट पर बीमा का विज्ञापन करते देखा है?
लोग ये प्रॉडक्ट क्यों खरीदते हैं? इसे लग्जरी से कहीं बढ़कर, एक जरूरत के तौर पर क्यों देखा जाता है? बीमा की जड़ें 3000-4000 ई.पू. तक जाती हैं। बेबीलोनियों के युग में, राजा हम्मुराबी ने बेबीलोन के स्मारकों पर कानून की नक्काशी करके इसे बीमा की आधारशिला बनाया। ऐसा यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया था कि कोई कर्जदार आपदा, प्राकृतिक आपदाओं, मृत्यु, आदि जैसी भयावह स्थितियों में अपने सामान से वंचित ना हो। यह तब से विभिन्न बाजारों में प्रवेश करने के बाद से विकसित हुआ है। भारतीय बीमा बाजार के अपने चरण हैं। भारतीय बीमा में आजादी के दौरान ही नहीं, बल्कि उससे पहले और बाद में भी क्रांति आई है। बीमा शब्द इतना विकसित हो गया है कि हर किसी के लिए इसका एक अलग अर्थ है। चिंता मत करें, हम यहाँ आपकी मदद करने के लिए मौजूद हैं। एंजेल ब्रोकिंग द्वारा स्मार्ट मनी पर बीमा के महत्व और यात्रा के बारे में पढ़ें और इस जानकारी को काम पर लगाएं।

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।


किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

वेबसाइट देखे
logo logo

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।

logo

किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account