Module for ट्रेडर्स

मुद्राओं और जिंसों का परिचय

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

INR- USD एक्सचेंज रेट किससे प्रभावित होता है?

01:35 Mins Read

INR-USD दर निश्चित नहीं है। बल्कि, यह कई प्रभावितों द्वारा निर्धारित की जाती है। ये कारक क्या हैं? इस वीडियो में पता लगाएँ।

Transcript

INR-USD एक्सचेंज रेट कैसे प्रभावित होता है? आपने कई बार भारतीय रुपए को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अलग-अलग रेट पर कारोबार करते हुए देखा होगा। पिछले कई वर्षों में, इस एक्सचेंज रेट को कई कारकों ने प्रभावित किया है। यहाँ ऐसे 5 कारक हैं सबसे पहला, भारत और अमेरिका दोनो की महंगाई दर, INR-USD के एक्सचेंज रेट पर असर डालती है। दूसरा, ब्याज दर भी INR-USD एक्सचेंज रेट को प्रभावित करती है। सरकारी ऋण भी INR-USD रेट को प्रभावित करने वाला एक कारक है। अगला फैक्टर जिस पर हम नज़र डालेंगे वो है व्यापार की शर्तें यानी टर्म्स ऑफ ट्रेड यह सीधे तौर पर, एक देश की निर्यात कीमतों की इंडेक्स और उसके आयात की कीमतों की इंडेक्स का रेशियो है। तो, मानिए कि भारत के निर्यात उसके आयात से ज़्यादा हैं, तो भारत के टर्म्स ऑफ ट्रेड में सुधार होगा। यानी भारतीय रुपया मज़बूत होगा। आखिर में, भारत और अमेरिका, दोनों ही देशों की राजनीतिक स्थिरता भी INR-USD रेट पर प्रभाव डालेगी। अब आपको INR-USD रेट को प्रभावित करने वाले कारकों का पता चल गया है। लेकिन इससे पहले आप अमेरिकी डॉलर में निवेश करें, आपको कई और बातें भी पता होनी चाहिए। इसके बारे में और जानकारी के लिए स्मार्ट मनी के अगले अध्याय पर जाएं

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।


किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

वेबसाइट देखे
logo logo

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।

logo

किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account