Module for ट्रेडर्स

विकल्प और वायदा का परिचय

ज्ञान की शक्ति का क्रिया में अनुवाद करो। मुफ़्त खोलें* डीमैट खाता

* टी एंड सी लागू

ऑप्शन और फ्यूचर में क्या अंतर है?

01:13 Mins Read

फ्यूचर और ऑप्शन के बीच कुछ बेहद छोटे अंतर हैं। उन्हें जानने से एफएंडओ ट्रेडिंग आसान हो सकती है।

Transcript

ऑपशंस और फ्यूचर्स में क्या अंतर है? दोनों में मुख्य अंतर खरीदार और विक्रेता की बाध्यता का है। एक फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट में, कॉन्ट्रैक्ट के खरीदार और विक्रेता, दोनों ही लेन-देन को पूरा करने के लिए बाध्य होते हैं। वहीं, एक ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट में, कॉन्ट्रैक्ट के खरीदार के पास उसे पूरा करने का अधिकार होता है, बाध्यता नहीं। इनमें शामिल जोखिम का क्या? फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट में शामिल रिस्क, ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट के रिस्क से ज्यादा होता है। लेकिन ऐसा क्यों? ऐसा उनमें शामिल मुनाफे या घाटे की मात्रा की वजह से। फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट में, मुनाफे और घाटे, दोनों की ही अपार क्षमता होती है। ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट में मुनाफे की कोई सीमा नहीं होती, लेकिन घाटा सिर्फ भुगतान किए गए प्रीमियम तक ही सीमित होता है। ऑप्शंस कॉन्ट्रैक्ट से जुड़े मुनाफे और घाटे के बारे में ज़्यादा जानने के लिए आपको उससे जुड़े पेऑफ की गणना करनी होगी। और जानने के लिए स्मार्ट मनी के साथ जुड़े रहे।

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।


किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

वेबसाइट देखे
logo logo

दिमागीपन! जानकारी लो

बाजार के साथ पकड़

60 सेकंड में समाचार।

logo

किसी भी समय और कहीं भी अपनी सीखने की यात्रा शुरू करने और उसके साथ बने रहने के लिए एकदम सही स्टार्टर।

logo

के साथ व्यापार करने के लिए तैयार?

logo
Open an account